Chhattisgarh Update : बंद का मिला जुला असर, कांग्रेस कार्यकर्ता सुबह से ही सड़कों पर

Insight Online News

रायपुर, 08 दिसम्बर  : किसानों के भारत बंद का मिला-जुला असर छत्तीसगढ़ में भी देखने को मिल रहा है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ट्रैक्टर पर सवार होकर रायपुर के जय स्तंभ चौक पहुंचे। यही हालात बिलासपुर, राजनांदगांव, धमतरी और बस्तर में भी है।

राजधानी रायपुर में भी  बंद का मिला-जुला असर है। मुख्य मार्गों पर बड़ी दुकानें और बाजार बंद हैं लेकिन रायपुरा सहित कुछ जगहों पर पेट्रोल पंप और दुकानें खुली हुई हैं। पुरानी बस्ती, कटोरा तालाब, मालवीय रोड, पंडरी कपड़ा बाजार, बॉम्बे मार्केट, संतोषी नगर, टिकरापारा समेत दर्जनों इलाकों में दुकानें बंद हैं। बंद को सफल बनाने के लिए प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन मरकाम, रायपुर के विधायक विकास उपाध्याय, कुलदीप जुनेजा, महापौर एजाज ढेबर, शहर कांग्रेस कमेटी के सभी पदाधिकारी और पार्षद सुबह से ही अपने-अपने क्षेत्रों में दौरा करके जन समर्थन मांग रहे हैं।

बिलासपुर में बंद का कुछ खास असर नहीं दिखाई दे रहा है। दुकानें अपने निर्धारित समय पर सुबह से खुल रही हैं। किसानों के इस बंद में व्यापारियों की कुछ खास दिलचस्पी नहीं दिखाई दे रही। तिफरा में व्यापारियों ने तो बंद का विरोध कर दिया। कांग्रेस कार्यकर्ता सुबह से ही सड़कों पर निकले हैं। धमतरी में जिला कांग्रेस के नेतृत्व में कांग्रेसी सुबह से शहर बंद कराने घूम रहे हैं। हालांकि जिले के किसान ही इसमें शामिल नहीं दिखाई दे रहे। नेशनल हाईवे की दुकानों के अलावा स्टेट हाईवे और सदर मार्ग पर कांग्रेस कार्यकर्ता घूम-घूम कर व्यापारियों से समर्थन मांगते रहे। अधिकांश व्यापारियों ने समर्थन नहीं दिया। व्यापारी दुकान का आधा शटर खोलकर बैठे हैं। सभी चौक पर बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात की गई है।

राजनांदगांव में बंद का व्यापक असर देखने को मिल रहा है। यहां चेंबर ऑफ कॉमर्स ने दोपहर 2 बजे तक पूरे शहर में तमाम व्यवसायिक संस्थानों को बंद रखने का फैसला लिया है। फिलहाल शहर में छोटे-छोटे होटल पान ठेले ही खुले नजर आए। सुबह से ही महापौर हेमा देशमुख, शहर कांग्रेस अध्यक्ष कुलवीर छाबड़ा, समेत तमाम कांग्रेस दुकानें बंद करवाते नजर आए।


महासमुंद में सुबह से ही शहर की सड़कें सूनी हैं। कांग्रेस और किसान संगठन के साथ आम आदमी पार्टी के नेता व्यवसायिक संस्थानों और बाजारों को बंद करवाने निकले हैं। कांग्रेसी नेताओं ने मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और खुद को किसानों के साथ बताया। चेंबर ऑफ कॉमर्स ने भी महासमुंद में तमाम व्यवसायिक संस्थानों को बंद रखने के लिए अपना समर्थन दिया है। फिलहाल शहर में पेट्रोल पंप, सब्जी दुकान और दवा दुकानें खुली हैं।


छत्तीसगढ़ चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज, छत्तीसगढ़ ऑटो यूनियन, रायपुर बस्तर परिवहन संघ, समस्त ट्रेड यूनियन, छत्तीसगढ़ ट्रक एसोसिएशन, छत्तीसगढ़ पेट्रोल एवं डीजल यूनियन, राजनैतिक दलों में भारतीय कांग्रेस पार्टी, आम आदमी पार्टी, सीपीआई, सीपीआईएम, सीपीआईएमएल, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ का भी बंद को समर्थन मिल गया है। किसान मजदूर संघ के सदस्य डॉक्टर संकेत ठाकुर ने बताया कि छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ भी बंद की अगुवाई कर रहा है। पेट्रोल पंप संघ ने भी बंद को अपना समर्थन दिया है। इसके अलावा सब्जी दुकानें , दवा दुकानें और डेयरी को बंद के असर से बाहर रखा गया है ।

हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *