National Update : हुनर हाट कौशल के कद्रदानों का कुंभ साबित होगा: नकवी

भोपाल : केन्द्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज कहा कि उन्हें आशा है कि भोपाल में आयोजित ‘हुनर हाट’ कौशल के कद्रदानों का कुंभ साबित होगा।
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के लाल परेड़ मैदान में देश भर के दस्तकारों, शिल्पकारों के दुर्लभ स्वदेशी हस्तनिर्मित उत्पादों के 27वें ‘हुनर हाट’ का उद्घाटन श्री नकवी और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ंिसह चौहान की उपस्थिति में किया गया। इस अवसर पर मध्यप्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा विशिष्ठ अतिथि के रूप में मौजूद रहे। केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय के सचिव पी के दास, अन्य वरिष्ठ अधिकारी एवं राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित रहे।

श्री नकवी ने कहा कि हुनर हाट प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा से दस्तकारों, शिल्पकारों की स्वदेशी विरासत को मौका और मार्केट उपलब्ध कराने का प्रभावी प्लेटफार्म है। यह आत्मनिर्भर भारत और समावेशी विकास के संकल्प को पूरा करता है। केन्द्रीय मंत्री ने बताया कि हुनर हाट में भाग ले रहे शिल्पकारों के उत्पाद ई-पोर्टल भी उपलब्ध हैं। उन्होंने आशा व्यक्त की कि भोपाल में आयोजित हुनर हाट कौशल के कद्रदानों का कुंभ साबित होगा।
केन्द्रीय मंत्री श्री नकवी ने हुनर हाट की जानकारी देते हुए बताया कि कारीगरों के उत्पाद के साथ-साथ खान-पान के भी विविध स्टॉल यहां मौजूद हैं। इसमें तंदूरी चाय की उन्होंने विशेष रूप से प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि तंदूरी रोटी का तो सुना है, पर तंदूरी चाय के बारे में पहली बार सुन रहे हैं। इस मौके पर श्री नकवी, चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सारंग तथा सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री श्री सखलेचा ने भी तंदूरी चाय का जायका लिया।

श्री नकवी ने कहा कि ‘हुनर हाट’ देश भर के दस्तकारों, शिल्पकारों का ‘एम्प्लॉयमेंट और एम्पावरमेंट एक्सचेंज’ साबित हुए हैं। ‘हुनर हाट’ के जरिये अब तक 5 लाख 50 हजार से ज्यादा दस्तकारों, शिल्पकारों, कलाकारों को रोजगार और रोजगार के मौकों से जोड़ा गया है। आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के साथ 75 ‘हुनर हाट’ के जरिये 7 लाख 50 हजार दस्तकारों, शिल्पकारों को रोजगार-रोजगार के मौकों से जोड़ा जायेगा।

उन्होंने कहा कि ‘हुनर हाट’ ई प्लेटफार्म के साथ ही पोर्टल पर भी देश-विदेश के लोगों के लिए उपलब्ध है, जहाँ लोग सीधे दस्तकारों, शिल्पकारों, कारीगरों के बेहतरीन स्वदेशी सामानों को देख-खरीद रहे हैं। अगले ‘हुनर हाट’ गोवा (26 मार्च से 4 अप्रैल), देहरादून (9 से 18 अप्रैल), सूरत (23 अप्रैल से 2 मई) में आयोजित होंगे। इसके अतिरिक्त कोटा, हैदराबाद, मुंबई, जयपुर, पटना, प्रयागराज, रांची, कोच्चि, गौहाटी, भुवनेश्वर, जम्मू-कश्मीर आदि स्थानों पर भी इसी वर्ष ‘हुनर हाट’ के आयोजन होंगें।
केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा 27वें ‘हुनर हाट’ का आयोजन ‘वोकल फॉर लोकल’ थीम के साथ लाल परेड ग्राउंड, भोपाल में 12 मार्च से 21 मार्च तक किया जा रहा है। यहां देश भर के 31 से ज्यादा प्रांतों के दस्तकार, शिल्पकार, कारीगर अपने दुर्लभ स्वदेशी हस्तनिर्मित उत्पाद बिक्री एवं प्रदर्शनी के लिए आएंगे।

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *