National Update : भारत संयुक्त राष्ट्र शांति सैनिकों की सुरक्षा का पक्षधर : जयशंकर

संयुक्त राष्ट्र : विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बुधवार को संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन के प्रभावी समन्वय एवं निगरानी के लिए ‘यूनाइट अवेयर प्लेटफॉर्म’ के क्रियान्वयन की घोषणा करते हुए कहा कि भारत संयुक्त राष्ट्र शांति सैनिकों की सुरक्षा का पक्षधर है और शांति अभियानों के संचालन और शांति अभियानों में प्रौद्योगिकी के लिए साझेदारी के समर्थन में संयुक्त राष्ट्र के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया है।

भारत के अगस्त माह के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता के दौरान प्रौद्योगिकी और शांति स्थापना पर खुली बहस की अध्यक्षता करते हुए डॉ जयशंकर ने कहा , “ मुझे यह घोषणा करते हुए बहुत हर्ष हो रहा है कि भारत चुनिंदा शांति अभियानों में यूनाइट अवेयर प्लेटफॉर्म के क्रियान्वयन में संयुक्त राष्ट्र का समर्थन कर रहा है। यह पहल इस उम्मीद पर आधारित है कि वास्तविक समय के आधार पर एक संपूर्ण शांति अभियान की कल्पना, समन्वय और निगरानी की जा सकती है।”
डॉ जयशंकर ने समकालीन खतरों से निपटने के लिए शांति सैनिकों के लिए चार सूत्रीय रूपरेखाओं को रेखांकित किया , उनमें पहला व्यापक रूप से उपलब्ध विश्वसनीय क्षेत्र-सेवा योग्य प्रौद्योगिकियों पर ध्यान केंद्रित करना तथा दूसरा एक ठोस सूचना और खुफिया ढांचे की आवश्यकता प्रमुख है। इसके अलावा तीसरा शांति सैनिकों द्वारा उपयोग किए जाने वाले हथियारों और उपकरणों के संदर्भ में मिशन के भीतर संचार क्षमता को मजबूत किया जाना और चौथा प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में शांति सैनिकों के निरंतर प्रशिक्षण की आवश्यकता है।

उन्होंने कहा , “ मुझे यह भी घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि भारत ने शांति अभियानों के संचालन और शांति अभियानों में प्रौद्योगिकी के लिए साझेदारी के समर्थन में संयुक्त राष्ट्र के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया है।” उन्होंने कहा कि राजनीतिक इच्छाशक्ति, मजबूत भागीदारी और संगठनात्मक संस्कृति में बदलाव को आगे ले जाने के लिए आवश्यक है तथा भारत इस दिशा में सक्रिय रुचि लेने वाले अन्य सदस्य देशों का स्वागत करेगा।”

विदेश मंत्री ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय शांति और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए शांति स्थापना भारत की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। भारत संयुक्त राष्ट्र शांति स्थापना में अग्रणी रहा है, जिसने पिछले कुछ वर्षों में 49 संयुक्त राष्ट्र शांति मिशनों में 10 लाख से अधिक सैनिकों को तैनात किया है। वहीं कोरोना काल में गत मार्च में विश्व भर में संयुक्त राष्ट्र शांति सेना कर्मियों के लिए करीब दो लाख कोविड-19 वैक्सीन के डोज भी उपलब्ध कराये हैं।

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *