Naxalites blew up railway track in Jharkhand : गिरिडीह में नक्सलियों ने ब्लास्ट कर रेलवे ट्रैक उड़ाया

  • -झारखंड-बिहार में नक्सली बंद आज
  • -अलग-अलग स्टेशनों पर तीन घंटे फंसी ट्रेनों

गिरिड़ीह , 27 जनवरी : झारखंड में गिरिडीह के पास नक्सलियों ने बुधवार देर रात बम ब्लास्ट कर रेलवे ट्रैक उड़ा दिया। घटना की जानकारी मिलते ही एहतियाती तौर पर हावड़ा-गया-दिल्ली रेल मार्ग पर ट्रेनों का आवागमन रोक दिया गया है। साथ ही कुछ ट्रेनों के रूट भी बदले गए हैं। हालांकि, रेलवे ट्रैक को कोई खास नुक्सान नहीं पहुंचा है।

भाकपा माओवादियों ने लोगों के बीच अपना खौफ फैलाने के लिए गुरुवार को झारखंड-बिहार बंद का आह्वान किया है। इसके तहत गिरिडीह में धनबाद-गया रेलखंड के अंतर्गत सरिया थाना क्षेत्र के चिचाकी और चौधरीबांध के बीच में नई दिल्ली- हावड़ा रेल लाईन के अप और डाउन ट्रैक को विस्फोट से उड़ा दिया। इससे इन रूटों पर ट्रेनों का परिचालन बाधित हो गया। घंटों मशक्कत के बाद ट्रेनों का आवागमन सामान्य हो सका। वहीं, चतरा में नक्सलियों के खौफ के कारण सड़क मार्ग प्रभावित है।

प्रशांत-शीला की रिहाई मांग रहे हैं नक्सली

नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के टॉप लीडर प्रशांत बोस और उनकी पत्नी शीला की गिरफ्तारी के बाद से ही नक्सली संगठन गुस्से में हैं।.नक्सली संगठन द्वारा इनकी गिरफ्तारी के बाद दो बार बंद का आह्वान किया जा चुका है। संगठन दोनों की रिहाई और बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने की मांग कर रहा है। संगठन ने बंद से पहले गत 21 जनवरी से 26 जनवरी तक प्रतिरोध दिवस मनाया। इस दौरान पुल, मोबाइल टॉवर को क्षतिग्रस्त करने के साथ गणतंत्र दिवस पर कई जगहों पर काले झंडे फहराए गए।

बताया जाता है कि गिरिडीह में रात लगभग 12:15 बजे नक्सलियों का दस्ता पहुंचा। रेल पटरी पर पोल संख्या 334/13 और 14 के बीच विस्फोट कर ट्रैक को उड़ा दिया। इस दौरान मौके पर प्रतिरोध दिवस और बंदी का पर्चा भी छोड़ा गया। गुरुवार सुबह घटना की सूचना पर सरिया-बगोदर और अन्य जिले की पुलिस मौके पर पहुंची है। इसके बाद रेलवे कर्मचारियों ने ट्रैक की मरम्मत कर ट्रेनों का परिचालन शुरू कराया।

इन ट्रेनों का संचालन प्रभावित

घटना के कारण इस रूट से होकर गुजरने वाली ट्रेनों का परिचालन बाधित हुआ। गंगा-दामोदर एक्सप्रेस चौधरी बांध स्टेशन पर, जोधपुर-हावडा एक्सप्रेस हजारीबाग रोड स्टेशन पर, हटिया इस्लामबाद एक्सप्रेस पारसनाथ स्टेशन पर तथा हावडा मुम्बई मेल, लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस समेत कई अन्य ट्रेन विभिन्न स्टेशनों पर करीब 3 घंटे रूकी रहीं। घटना के बाद आसपास के इलाके में पुलिस और सीआरपीएफ ने सर्च अभियान चलाया।

चतरा में यातायात व्यवस्था पूरी तरह से प्रभावित

चतरा जिले में भाकपा माओवादियों के बंदी का व्यापक असर है। यातायात व्यवस्था पूरी तरह से प्रभावित है। माल वाहक और यात्री वाहनों का परिचालन नहीं हो रहा है। सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। जिला मुख्यालय से रांची, हजारीबाग, गया, कोडरमा, चौपारण एवं अन्य दूसरी जगहों के लिए चलने वाली यात्री बसों के पहियों पर ब्रेक लगा हुआ है। बस एवं टैक्सी स्टैंडों में यात्री परेशान हैं।

उल्लेखनीय है कि नक्सली संगठन द्वारा गिरफ्तारी के बाद दो बार बंद करवाया गया है । इस बार 21 जनवरी से 26 जनवरी तक दोनों की रिहाई की मांग को लेकर प्रतिरोध दिवस मनाया गया।

गणतंत्र दिवस पर तीन जिलों में नक्सलियों ने दिखाया दुस्साहस

झारखंड में गणतंत्र दिवस पर तीन जिलों में नक्सलियों ने दुस्साहस दिखाया। नक्सलियों ने कई सरकारी इमारतों और परिसर में गणतंत्र के विरोध स्वरूप काला ध्वज फहराया। इसके अलावा हजारीबाग के बिष्णुगढ़ में नक्सलियों ने मोबाइल टॉवर उड़ा दिया। गिरिडीह के डुमरी और मधुबन इलाके में झंडा लगाया। वहीं गुमला के बिशुनपुर में स्कूल में काला झंडा लगाया।

( हि. स. )

Leave a Reply

Your email address will not be published.