New guidelines issued in Delhi regarding Corona: दिल्ली में बेकाबू कोरोना के बीच और सख्त हुए प्रतिबंध, सभी प्राइवेट ऑफिस को बंद करने का आदेश

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में कोरोना की बेकाबू रफ्तार को रोकने के लिए सरकार ने सख्ती बढ़ा दी है। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) के नए आदेश के अनुसार, दिल्ली में अब सभी प्राइवेट ऑफिस बंद रहेंगे, सभी को वर्क फ्रॉम होम का पालन करना होगा। हालांकि, केवल जो छूट की श्रेणी में आते हैं उन्हें इससे बाहर रखा गया है। सभी रेस्तरां और बार बंद रहेंगे, लेकिन खाना लेकर जाने की अनुमति रहेगी।

जानकारी के अनुसार, दिल्ली सरकार ने मंगलवार को COVID-19 मामलों की बढ़ती संख्या के बीच छूट प्राप्त श्रेणियों को छोड़कर सभी प्राइवेट ऑफिसों को बंद करने का निर्देश दिया है। जो प्राइवेट ऑफिस अब तक 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ काम कर रहे थे, अब उन्हें वर्क फ्रॉम होम की प्रथा का पालन करने के लिए कहा गया है। डीडीएमए द्वारा जारी एक आदेश में शहर में रेस्तरां और बार को बंद करने का भी निर्देश दिया गया है। हालांकि, रेस्तरां को होम डिलीवरी और खाना ले जाने की अनुमति दी गई है। दिल्ली के सरकारी ऑफिस भी इस समय 50 प्रतिशत क्षमता के साथ काम कर रहे हैं।

बता दें कि, डीडीएमए ने सोमवार को कोविड-19 संक्रमण पर रोक लगाने के लिए बार बंद करने के साथ ही रेस्तरां में बैठकर भोजन करने पर भी रोक लगा दी थी। हालांकि, डीडीएमए ने दिल्ली में लॉकडाउन लगाने का निर्णय अभी तक नहीं लिया है। उपराज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में डीडीएमए की एक बैठक में इस बात पर चर्चा की गई कि मौजूदा पाबंदियों को कैसे सख्ती से लागू किया जाए ताकि कोरोना वायरस और इसके नए ओमिक्रॉन वैरिएंट को फैलने से रोका जा सके। इस बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी शामिल थे। बैठक में इस बात पर मंथन हुआ कि दिल्ली में लगाई गई पाबंदियों को समूचे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में भी लागू करना चाहिए।

उपराज्यपाल बैजल ने ट्वीट किया, ‘कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ने के मद्देनजर हमने रेस्तरां और बार बंद करने का फैसला किया, लेकिन रेस्तरां से भोजन घर ले जाने की सुविधा रहेगी। यह भी निर्णय लिया गया कि प्रति जोन हर दिन केवल एक साप्ताहिक बाजार के संचालन की अनुमति दी जाएगी।’

दिल्ली में कोविड पॉजिटिविटी रेट 25 प्रतिशत

दिल्ली में सोमवार को एक दिन में कोरोना के 19,166 नए केस सामने आए और 17 और मौतों के साथ पॉजिटिविटी रेट बढ़कर 25 प्रतिशत हो गया, जो पिछले साल चार मई के बाद सबसे अधिक है। दिल्ली में रविवार को भी 17 लोगों की कोविड की मौत हो गई थी। केवल 10 दिनों में, दिल्ली में 70 कोविड मौतें दर्ज की गई हैं।

रविवार को दर्ज किए गए 22,752 नए मामले पिछले साल 1 मई के बाद से सबसे अधिक थे, जब शहर में 31.61 प्रतिशत की पॉजिटिविटी रेट के साथ 25,219 केस सामने आए थे।

सोमवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, दिल्ली में सोमवार को कुछ कम मामले देखे गए, इसका कारण यह था कि पिछले दिन किए गए टेस्ट की संख्या एक दिन पहले की तुलना में कम थी। फिलहाल कुल 1,912 कोविड मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं। उनमें से 65 वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं, सरकारी आंकड़ों से पता चलता है। 17 और मौतों के साथ वर्तमान में कुल मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 25,177 हो गया है। हालांकि, पिछले 24 घंटों में COVID-19 से कुल 14,076 लोग ठीक हुए हैं, जिससे राजधानी में कुल ठीक होने वालों की संख्या 14,77,913 हो गई है।

-Agency

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *