Nitish Sarkar’s gift to the girl students : बिहार में इंटर पास अविवाहित छात्राओं को मिलेंगे 25 हजार

पटना। राज्य सरकार ने आज छात्र-छात्राओं के लिए खजाना खोल दिया है। सामान्य वर्ग के छात्रों के छात्रवृति के अलावा इंटर पास करने वाली अविवाहित बालिकाओं के प्रोत्साहन मद में 631 करोड़ रुपया जारी किया है। मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के तहत 2021-22 में राज्य सरकार से मान्यता प्राप्त बोर्डों से इंटरमीडिएट की परीक्षा पास करने वाली सभी अविवाहित छात्राओं को 25 हजार रुपये की दर से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इनकी संख्या चार लाख 12 हजार से अधिक है। सामान्य छात्र-छात्राओं के छात्रवृति मद में 30 करोड़ और बालिका प्रोत्साहन मद में 631 करोड़ रुपये से अधिक का आवंटन किया गया है।

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना सुशासन के कार्यक्रम का हिस्सा है। इसके तहत राज्य सरकार ने अविवाहित छात्राओं को इंटर पास करने पर 25 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि देने का फैसला फरवरी में किया था। अब इनके बैंक खाते में रकम जाएगी। इसके अलावा राज्य सरकार ने नौंवी और दसवीं कक्षा में पढ़ने वाले सामान्य वर्ग के छात्र-छात्राओं को छात्रवृति मद में भुगतान के लिए करीब 30 करोड़ रुपया जारी किया है। यह राशि उन छात्रों को दी जाएगी, जिनकी वार्षिक पारिवारिक आय डेढ़ लाख रुपये से कम है। ऐसे छात्रों की संख्या एक लाख, 66 हजार, 445 है। छात्रवृति की यह राशि वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए है। कोरोना के कारण समय पर इसका भुगतान नहीं किया गया था। राजकीय, राजकीयकृत, प्रोजेक्ट उच्च माध्यमिक विद्यालय, अनुदानित प्रस्वीकृत अल्पसंख्यक उच्च विद्यालय, अनुदानित अराजकीय प्रस्वीकृत मदरसा, संस्कृत एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों के छात्र-छात्राओं को इसका लाभ मिलेगा। इसमें अल्पसंख्य समुदाय के सामान्य वर्ग के छात्र-छात्राएं भी शामिल हैं।

शिक्षा विभाग के आदेश के मुताबिक विशेष परिस्थिति में छात्रवृति के लिए निर्धारित 75 प्रतिशत उपस्थिति की अनिवार्यता इस मामले में शिथिल कर दी गई है। हरेक छात्र-छात्रा को डेढ़ सौ रुपये हर महीने की दर से एकमुश्त 18 सौ रुपये का भुगतान किया जाएगा। यह रकम सीधे उनके बैंक खाते में जाएगी। विभाग के डीबीटी कोषांग में यह विवरण दर्ज है कि किस जिले में कितने छात्र इस योजना के हकदार हैं। वितरण से बची राशि तत्काल कोषागार में जमा करने का आदेश दिया गया है। प्रधानाचार्य से लेकर माध्यमिक शिक्षा विभाग के निदेशक तक छात्रवृति वितरण पर नजर रखेंगे।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *