HindiNationalNews

अब टूटेगा यूपी का अकबरनगर, आएगा योगी का बुलडोजर; टीम ने ध्वस्तीकरण के लिए रास्ता भी कर लिया तैयार

लखनऊ। करीब सात महीने के लंबे इंतजार के बाद कुकरैल नदी पर अवैध रूप से बसाए गए अकबरनगर प्रथम और द्वितीय को तोड़ने की कार्रवाई शुरू हो गई। एलडीए ने ध्वस्तीकरण का रास्ता बनाने के लिए अयोध्या रोड के दोनों ओर तोड़े गए व्यावसायिक निर्माण के मलबे को हटा दिया। एलडीए के उपाध्यक्ष डा. इंद्रमणि त्रिपाठी, अपर सचिव ज्ञानेंद्र वर्मा और संयुक्त सचिव सुशील प्रताप सिंह ने अकबरनगर को ध्वस्त करने का पूरा प्लान बनाया।

वहीं, उपाध्यक्ष ने सभी 1679 विस्थापित परिवारों को हर हाल में रविवार तक अपना पीएम आवास का आवंटन पत्र प्राप्त करने की अपील भी की। अकबरनगर प्रथम और द्वितीय में 1200 से अधिक अवैध आवासीय निर्माण हैं। इसमें चार मंजिल तक बड़े-बड़े घर, कुछ धार्मिक स्थल और मदरसे भी हैं। एलडीए प्रतिदिन दो शिफ्टों में अवैध निर्माण तोड़ेगा।

  • दो पाली में होगी ध्वस्तीकरण की कार्रवाई

पहली पाली में सुबह सात से दोपहर 12 बजे तक और दूसरी पाली में दोपहर तीन से रात आठ बजे तक ध्वस्तीकरण की कार्रवाई होगी। पहली शिफ्ट में ध्वस्तीकरण की कमान संयुक्त सचिव सुशील प्रताप सिंह के पास होगी। उनके नेतृत्व में विशेष कार्याधिकारी शशिभूषण पाठक, अधिशासी अभियंता संजीव कुमार गुप्ता व उप सचिव माधवेश कुमार को नामित किया गया है।

वहीं, दूसरी शिफ्ट में अपर सचिव ज्ञानेंद्र वर्मा के नेतृत्व में विशेष कार्याधिकारी देवांश त्रिवेदी, अधिशासी अभियंता राजकुमार व विशेष कार्याधिकारी रोहित सिंह ध्वस्तीकरण करेंगे। ध्वस्तीकरण के लिए सभी प्रवर्तन जोन के स्टाफ को भी लगाया गया है। अकबरनगर के 1679 अध्यासियों को प्रधानमंत्री आवास आवंटित किये गये हैं। उनके आवंटन पत्र एलडीए की वेबसाइट पर भी अपलोड किये गये हैं, जिसे लोग आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं।

अब तक अकबर नगर के लगभग 150 अध्यासियों को भवन का कब्जा दिया जा चुका है। शनिवार को एलडीए की कार्रवाई तेज होते हुए 320 लोगों ने भी शिविर में लाइन लगाकर अपना आवंटन पत्र प्राप्त किया। प्रधानमंत्री आवास योजना का कार्य देख रहे विशेष कार्याधिकारी रवि नंदन सिंह अकबरनगर स्थित कैंप में आवंटन से जुड़ी समस्या का निराकरण कर आवंटियों को मौके पर ही भवन का कब्जा देंगे।

बसंतकुंज योजना में आवंटित भवनों में कब्जा दिलाने के लिए भी अधिकारियों व कर्मचारियों की दो शिफ्ट में ड्यूटी लगायी गयी है। पहली शिफ्ट में विशेष कार्याधिकारी वंदना पांडेय, अनु सचिव बलराम व अधिशासी अभियंता अजय गोयल तैनात होंगे। दूसरी शिफ्ट में विशेष कार्याधिकारी रंजना अवस्थी, उप सचिव अतुल कृष्ण सिंह व अधिशासी अभियंता संजय जिंदल होंगे।

  • यह होंगे इंतजाम

5 कंपनी पीएसी की अतिरिक्त होगी तैनाती 3 कंपनी आरएएफ संभालेगी कमान 10 जेसीबी का इस्तेमाल होगा ध्वस्तीकरण में 6 पोकलैंड को भी लगाया जाएगा साथ 6 शिविर बनेंगे सुरक्षाकर्मियों के लिए 3 से 4 पानी के टैंकर भी रहेंगे मौजूद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *