अतिरिक्त खिलाड़ियों के पास टी20 विश्व कप टीम में जगह बनाने का मौका : धवन

लखनऊ, 06 अक्टूबर – दक्षिण अफ्रीका एकदिवसीय शृंखला में भारतीय टीम के कप्तान शिखर धवन ने कहा है कि इस सीरीज में खेलने वाले टी20 विश्व कप टीम के सभी अतिरिक्त खिलाड़ी इन तीन मैचों का उपयोग मुख्य स्क्वाड में अपनी दावेदारी पेश करने के लिये करेंगे।

धवन ने बुधवार को यहां आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा, “निश्चित ही यह शृंखला बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि वे (अतिरिक्त खिलाड़ी) जितने अधिक मैच खेलेंगे, उतनी ही बेहतर मानसिक स्थिति में होंगे। अगर लड़के अच्छा प्रदर्शन करते हैं, तो यह आत्मविश्वास उनकी मदद करेगा। अगर उन्हें (टी20 विश्व कप में) मौका मिलता है तो वे इस सीरीज को तैयारी के तौर पर देख सकेंगे।”

इस सीरीज में खेलने वाले दीपक चाहर, रवि बिश्नोई, श्रेयस अय्यर और मोहम्मद शमी भारत की टी20 विश्व कप स्क्वाड में अतिरिक्त खिलाड़ी हैं, हालांकि शमी फिलहाल कोरोना से उभर रहे हैं। यदि शमी आईसीसी द्वारा टी20 विश्व कप केे लिये टीम की घोषणा करने की निर्धारित तिथि (15 अक्टूबर) तक पूर्णतः फिट नहीं हो पाते तो चोटग्रस्त जसप्रीत बुमराह की अनुपस्थिति में तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज भी ऑस्ट्रेलिया जा सकते हैं।
धवन ने कहा कि पहली बार भारत के लिये पदार्पण करते हुए राहुल त्रिपाठी, रजत पाटीदार, मुकेश कुमार, शाहबाज अहमद जैसे युवाओं को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ महत्वपूर्ण अनुभव मिलेगा।

उन्होंने कहा, “अगर आप हमारे युवाओं के प्रदर्शन को देखें तो जो बदलाव हुआ वह उनके आत्मविश्वास को दर्शाता है। वे जितना अधिक खेलेंगे उन्हें उतना ही अधिक अनुभव मिलेगा औ उनके आत्मविश्वास का स्तर बढ़ेगा। वे गलतियों से सीखेंगे। यह बात मेरे लिये भी है। 2023 (विश्व कप) को ध्यान में रखते हुए, मैं जितने अधिक मैच खेलूंगा, उतना ही मेरे लिए फायदेमंद होगा।”
धवन ने टीम के प्रदर्शन पर कहा, “टीम बहुत अच्छी है और इस टीम के साथ हम वेस्टइंडीज और जिम्बाब्वे में खेले। अधिकांश खिलाड़ी वही हैं, बस एक या दो नये चेहरे हैं। नये लड़के नयी ऊर्जा लेकर आये हैं। वे पिछली कुछ शृंखलाओं से अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।”

पिछले दो सालों में धवन का एकदिवसीय करियर शानदार रहा है। वह श्रीलंका और वेस्ट इंडीज के विजयी अभियानों में भारत की कप्तानी कर चुके हैं जबकि ज़िम्बाब्वे में वह भारत के उपकप्तान थे। धवन ने अपने खेल के बारे में कहा कि अब उनका लक्ष्य आईसीसी विश्व कप 2023 के लिये फिट रहना और टीम में जगह बनाना है।
धवन ने कहा, “मैं बहुत धन्य महसूस करता हूं कि मेरा करियर अच्छा रहा। मैं वास्तव में आभारी हूं। जब भी संभव हो मैं अपने अनुभव को युवाओं से साझा करता हूं। अब मुझ पर नयी जिम्मेदारी है लेकिन मैं चुनौतियों में अवसर देखता हूं और इसका आनंद लेता हूं।”
उन्होंने कहा, “वर्तमान में मेरा लक्ष्य 2023 विश्व कप है। मैं सिर्फ अपने आप को फिट और अच्छी मानसिक स्थिति में रखना चाहता हूं।”

वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *