Pm narendra modi : गरीबों के हित में छह सालों में जो कार्य हुए, वे पहले कभी नहीं हुए : मोदी

भोपाल, 09 सितंबर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीबों और वंचितों के हित में कार्य करने की प्रतिबद्धता दोहराते हुए आज कहा कि देश में पिछले छह सालों के दौरान गरीबों के हित में जितने व्यवस्थित ढंग से कार्य हुए हैं, वे पहले कभी नहीं हुए।
श्री मोदी ने सड़क किनारे ठेला लगाकर या फुटपाथ पर बैठकर कार्य करने वालों (स्ट्रीट वेंडर्स) के लिए प्रारंभ की गयी प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत मध्यप्रदेश के एक लाख से अधिक हितग्राहियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया।

श्री मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार की सभी योजनाएं इस तरह से एक दूसरे काे संबद्ध कर बनायी गयी हैं, जिससे गरीबों, पीड़ितों, शाेषितों, वंचितों, दलितों और आदिवासियों का व्यापक हित हाे सके। इस दिशा में पिछले छह सालों में जिस तरह से व्यवस्थित ढंग से कार्य हुआ, वो पहले कभी नहीं हुआ।

कार्यक्रम में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए केंद्रीय शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राज्य के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह, अन्य मंत्री, जनप्रतिनिधि और अधिकारी भी जुड़े। श्री मोदी ने इंदौर जिले के सांवेर निवासी झाडू बनाकर बेचने वाले दंपत्ति, ग्वालियर में चाट बेचने वाली महिला और उसके परिजनों तथा रायसेन जिले के सांची निवासी आर्गेनिक सब्जी बेचने वाले व्यक्ति से संवाद भी किया।

श्री मोदी ने कहा कि दुनिया में जब भी महामारी या कोई अन्य संकट आता है, उससे गरीब ही सबसे अधिक प्रभावित होते हैं। देश में कोरोना संकट के दौरान भी यही हुआ। इसलिए केंद्र सरकार ने गरीबों के हित में कोरोना संकट की शुरूआत से कदम उठाए। केंद्र सरकार ने पिछले छह सालों के दौरान गरीबों के हित में जो योजनाएं बनायीं, वे सब एक दूसरे से संबद्ध हैं और इन सभी का कोरोना संकट के दौरान भी प्रभावी क्रियान्वयन किया जा रहा है। इसके अलावा इन्हीं योजनाओं से संबद्ध अन्य योजनाएं भी शुरू की जा रही हैं।

श्री मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के हितग्राहियों के बारे में नयी योजना पर कार्य किया जा रहा है और अब देखा जाएगा कि उज्जवला, आयुष्मान और अन्य केंद्रीय योजनाओं का लाभ इन हितग्राहियों को मिल रहा है अथवा नहीं। यदि इन्हें अन्य योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है तो उन्हें इन योजनाओं का लाभ दिलाना भी सुनिश्चित कराया जाएगा।

श्री मोदी ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री चौहान और उनकी टीम की यह कहते हुए सराहना की कि उनके प्रयासों से मात्र दो माह में एक लाख से ज्यादा स्ट्रीट वेंडर्स को लाभ मिलना सुनिश्चित हुआ है। इतने कम समय में लगभग साढ़े चार लाख लोगों को पहचान कर उन्हें पहचान पत्र देने का महत्वपूर्ण किया गया। यह बड़ा कार्य है।

श्री मोदी ने विश्वास व्यक्त किया कि अन्य राज्य भी मध्यप्रदेश से प्रेरणा लेकर इसी तरह कार्य करेंगे और योजना का लाभ हितग्राहियों को दिलाएंगे। इसके पहले श्री चौहान ने अपने संबोधन में योजना के तहत हुए कार्यों पर प्रकाश डाला।

वार्ता

Coronavirus Update : कोरोनामुक्त होने वालों की संख्या नये शिखर पर, एक दिन में रिकॉर्ड 74,894 स्वस्थ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *