Priyanka Gandhi-Sant Ravidas News : प्रियंका गांधी ने संत रविदास की प्रतिमा के सामने टेका मत्था, संतों से लिया आर्शिवाद

Insight Online News

वाराणसी, 27 फरवरी । कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा शनिवार को संत शिरोमणी रविदास की जन्मस्थली सीर गोवर्धनपुर पहुंची। संत रविदास की 644वीं जयंती पर प्रियंका ने मंदिर में गुरू के प्रतिमा के समक्ष पूरे श्रद्धाभाव से मत्था टेकने के बाद आर्शिवाद मांगा।

मंदिर में दर्शन पूजन के बाद उन्होंने डेरा सच्चा बल्लखंड के संत निरंजन दास से आर्शिवाद लिया। संत ने प्रियंका गांधी का कुशलक्षेम भी पूछा और लंगर छकने के लिए कहा। प्रियंका गांधी ने संत सेे कहा कि अभी पानी पी लूंगी। यहां से मुख्य सत्संग पंडाल के मंच पर पहुंची। प्रियंका गांधी ने संत निरंजन दास के बगल में बैठकर रैदासियों का अभिवादन भी किया।

इस दौरान उन्होंने कहा कि सच्चा धर्म लोगों को आपस में जोड़ने के साथ सेवा भाव भी जगाता है। सच्चा धर्म राजनीति नही सिखाता। सच्चा धर्म बैर नहीं सिखाता, तोड़ता नहीं, भेदभाव भी नही सिखाता। गुरू रविदास ने सच्चे धर्म ​की स्थापना की और प्रेम का संदेश दिया। रैदासी भक्तों की सराहना कर उन्होंने कहा कि आप सभी धन्यवाद के पात्र हैं। आपने संत रविदास के सच्चे धर्म को जगाए रखा है। इस दौरान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू‚ पूर्व विधायक अजय राय‚ महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे आदि का परिचय भी प्रियंका ने संत निरंजन दास से परिचय कराया।

इसके पहले प्रियंका गांधी का काफिला कड़ी सुरक्षा के बीच सीर गोवर्धनपुर पहुंचा। प्रियंका गांधी को देखने के लिए जन्मस्थान पर भीड़ उमड़ पड़ी। लोग उनकी एक झलक पाने और सेल्फी लेने के लिए बेचैन रहे। प्रियंका मंदिर से कुछ कदम पहले उतर कर पैदल ही गुरू दरबार में गई। मंदिर परिसर में ट्रस्टियों ने उनकी अगवानी की।

बताते चलें कि, प्रियंका पूर्वांह 10.30 बजे बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंची थीं। यहां कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू, पूर्व सांसद राजेश मिश्रा, पिंडरा के पूर्व विधायक अजय राय के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने प्रियंका गांधी का स्वागत किया। हजारों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता और समर्थक भी मौजूद रहे। इस दौरान प्रियंका गांधी ने अपनी कार के दरवाजे पर खड़े होकर समर्थकों का अभिनंदन किया। एयरपोर्ट से सीरगोवर्धनपुर तक जगह-जगह उनका जोरदार स्‍वागत किया गया। प्रियंका गांधी को देखने के लिए कई जगहों पर सड़क पर भीड़ उमड़ पड़ी।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *