राज्यसभा में राकेश सिन्हा ने उठाया रेल पुल और बेगूसराय की उपेक्षा का मुद्दा

बेगूसराय, 22 जुलाई । रेल विभाग द्वारा बेगूसराय में गंगा नदी पर बने श्रीकृष्ण सेतु तथा बेगूसराय जिला के विभिन्न रेलवे स्टेशनों की उपेक्षा का मामला अब देश के उच्च सदन राज्यसभा में पहुंच गया है।

राज्यसभा में सांसद प्रो. राकेश सिन्हा ने कहा है कि बेगूसराय को रेलवे मंत्रालय एक जिला के रूप में नहीं देखें। इसके स्टेशनों का विकास, ट्रेनों का ठहराव, यात्री सुविधा में बढ़ोतरी औद्योगिक जिला के रूप में ध्यान रखते हुए किया जाय।

उन्होंने कहा है कि बेगूसराय-मुंगेर गंगा पुल होकर कोलकाता के लिए ट्रेन की मांग वर्षों से लंबित है। हजारों दैनिक यात्री, किसानों, छात्रों व्यवसायियों की सुविधा को ध्यान में रखकर इस फूल हो कर अविलंब ट्रेन चलाया जाय। राकेश सिन्हा ने बेगूसराय से दिल्ली के लिए भी ट्रेन चलाने का सुझाव दिया। इसके साथ ही दनौली फुलवड़िया सहित अन्य स्टेशन पर महत्वपूर्ण ट्रेन के ठहराव की मांग की। एक अन्य तारांकित प्रश्न के माध्यम से बखरी बाजार में स्थित फरकिया के प्रमुख रेलवे स्टेशन सलौना स्टेशन के विकास और ट्रेन के ठहराव के विषय में प्रश्न उठाया है। जिसपर रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव ने साकारात्मक उत्तर दिया तथा सुझाव पर मिलने की बात कही है।

राज्यसभा सदस्य राकेश सिन्हा द्वारा मनोनीत रेलवे परामर्शदात्री समिति के सदस्य शंभू कुमार ने बताया कि बेगूसराय जिले के विभिन्न स्टेशनों पर महत्वपूर्ण ट्रेनों का ठहराव तथा स्टेशन का विकास राकेश सिन्हा के प्रयास से संभव हुआ है। उनका प्रयास है कि औद्योगिक जिला को जो महत्व और सुविधा रेलवे द्वारा मिलता है, उसे ध्यान में रखकर यहां भी विकास हो, जल्द ही कुछ महत्वपूर्ण ट्रेन का ठहराव भी मिलेगा। बेगूसराय, लखमीनियां, तेघड़ा, फुलवड़िया, साहेबपुर कमाल आदि स्टेशन का सांसद ने कई बार दौरा किया और इनके पहल पर रेलवे के जीएम एवं डीआरएम का लगातार दौरा हो रहा है।

इस प्रयास की सराहना करते हुए भाजपा जिलाध्यक्ष राजकिशोर सिंह ने कहा राज्यसभा सदस्य राकेश सिन्हा सम्पूर्ण जिला के विकास के लिए में सोचते हैं, उसे कार्यरूप देने में लगे रहते हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विकास के संकल्प को जमीन पर उतार रहे हैं, रेलमंत्री अश्वनी वैष्णव बेगूसराय जिले के रेलवे के विकास के लिए अच्छी पहल कर रहे हैं। भाजपा नेता राम कल्याण सिंह, नीरज नवीन, बलराम सिंह मुखिया सौरभ कुमार, ललन सिंह, राकेश रौशन, जनार्दन पटेल, इंदु मिश्रा, श्याम सुंदर, गौतम सदा, रामशंकर पासवान, निरंजन सिंह, सुनील कुंवर एवं संजीव सिंह आदि ने राकेश सिन्हा के इस प्रयास की सराहना की तथा रेलमंत्री के साकारात्मक रुख का अभिनंदन किया है।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.