सेवानिवृत डीएसपी और रीडर 80 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार

Insight Online News

सोनीपत, 13 अगस्त : हरियाणा में सोनीपत विजिलेंस टीम ने राजस्थान के जयपुर स्थित चित्रकूट थाना प्रभारी के रीडर और सेवानिवृत्त पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) को सोनीपत के एक कारोबारी से 80 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। आरोपियों को मुरथल स्थित एक ढाबा के पास से गिरफ्तार किया गया।

राजस्थान पुलिस कारोबारी के एक कारिंदे को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी हैं और अब कारोबारी को उस मामले में गिरफ्तार करने की धमकी दे रहे थे।

सोनीपत विजिलेंस प्रभारी अनिल हुड्डा की टीम को ओमेक्स सिटी सोनीपत निवासी मनीष कुमार ने शिकायत दी कि वह राजस्थान के जयपुर में शेयर बाजार का काम करते है। कुछ समय पूर्व उनके एक कारिंदे को जयपुर की चित्रकूट थाना पुलिस ने जबरन पैसे मांगने के मामले में गिरफ्तार किया था। बाद में मनीष को फोन कर बताया गया कि उनका नाम भी इस मामले में जुड़ा है। उन्हें इस मामले में गिरफ्तार किया जाएगा। गिरफ्तारी से बचने और मामले से नाम हटाने के नाम पर उनसे 20 लाख रुपये की मांग की गई। बाद में उनका छह लाख रुपये में सौदा तय हुआ था।

मनीष ने अपनी शिकायत में विजिलेंस को बताया कि सेवानिवृत्त डीएसपी शैलेंद्र कुमार ने मामला निपटवाने की बात कही। वह मामले में बिचौलिया बनकर बात कर रहे थे। उन्होंने जांच अधिकारी से वीडियो कॉल पर बात भी कराई। पीड़ित ने घबराकर आरोपियों के पास पेटीएम के माध्यम से कुल 40 हजार रुपये भेज दिये। बाद में उसने मामले से विजिलेंस को अवगत कराया। विजिलेंस के कहने पर उसने आरोपियों को मुरथल के एक ढाबे के पास बुला लिया। जब आरोपी पैसे लेने आए तो उन्हें 80 हजार रुपये लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया गया। टीम ने उनके पास से पैसे बरामद कर लिए।

उनकी पहचान सिपाही दशरथ और शैलेंद्र सिंह के रूप में हुई। दशरथ सिंह चित्रकूट थाना प्रभारी का रीडर है। वहीं शैलेंद्र सिंह राजस्थान पुलिस से सेवानिवृत्त डीएसपी है। उन्हें अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया गया है।

सं. उप्रेती, वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *