Saryu Rai : शीतकालीन सत्र के दौरान प्रश्न का सही उत्तर नहीं दे सके स्वास्थ्य मंत्री : सरयू राय

रांची, 17 दिसम्बर । जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय ने कहा कि विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दौरान तारांकित प्रश्न का सही उत्तर स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता नहीं दे सके। विधान सभा अध्यक्ष ने निर्देश दिया कि मंत्री इस प्रश्न का सही उत्तर चलते सदन में मंगलवार को मंत्री दें।

सरयू राय का सवाल था कि फरवरी 2020 से जुलाई 2020 के बीच राज्य में कई असूचीबद्ध अस्पतालों, जिसमें ब्रह्यानंद नारायणा अस्पताल, तामोलिया भी शामिल है, को मुख्यमंत्री गंभीर बीमारी उपचार योजना के तहत बीमारियों के इलाज का लाभ सरकार ने दिया है, जो अनियमित एवं भ्रष्ट आचरण है।

स्वास्थ्य मंत्री ने इसका जवाब दिया है कि ब्रह्यानंद अस्पताल, मुख्यमंत्री गंभीर बीमारी उपचार योजना के तहत बीमारियों के इलाज के लिए सूचीबद्ध है। इस पर राय ने पूरक प्रश्न पूछा कि मंत्री स्पष्ट बतायें कि फरवरी 2020 से जुलाई 2020 के बीच यह अस्पताल सूचीबद्ध था या नहीं। इसका उत्तर मंत्री नहीं दे सके। राय ने विधान सभा अध्यक्ष को स्वास्थ्य विभाग का संकल्प संख्या को सूपुर्द किया, जिसमें 40 सूचीबद्ध अस्पतालों की सूची दी गई है। इसमें कहीं भी ब्रह्यानंद नारायणा अस्पताल, तामोलिया का नाम नहीं है।

राय ने कहा कि इसी अवधि में करीब एक दर्जन मरीजों के बीमारियों की चिकित्सा का लाभ ब्रह्यानंद अस्पताल सहित कई अन्य असूचीबद्ध अस्पतालों को मिला है। उन्होंने आरोप लगाया कि यह मामला प्रकाश में आने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने जुलाई 2020 के बाद इन अस्पतालों को सूचीबद्ध किया है। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री को चुनौती दिया और विधान सभा अध्यक्ष से आग्रह किया कि इसकी जांच के लिए सदन की एक समिति बना दी जाय। इस पर अध्यक्ष ने स्वास्थ्य मंत्री को निर्देश दिया कि चलते सदन में प्रश्न का सही उत्तर विभाग दे।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *