Saryu Roy : उद्योगों के ऑक्सीजन की ज़रूरतें भी पूरी की जाय :

Insight Online News

उद्योगों के ऑक्सीजन की ज़रूरत पूरी करने से उनका उत्पादन जारी रहेगा

जमशेदपुर, 08 मई : झारखंड के पूर्व मंत्री और विधायक सरयू राय ने कहा कि सिंहभूम चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष अशोक भालोटिया शनिवार को जमशेदपुर में मुझसे मिलें। उन्होंने कोरोना वायरस के दूसरे वेव में चैम्बर और उनकी सहयोगी संस्थाओं द्वारा की जा रही सहायता से ख़ासकर ऑक्सीजन सिलिंडर की सहायता से अवगत कराया। उन्होंने ध्यान आकृष्ट किया और मुझे भी सही लगा कि जमशेदपुर एवं आसपास के क्षेत्रों में कोरोना वायरस का दूसरा वेव अपने उच्च स्तर पर पहुंच रहा है।

उन्होंने कहा कि जमशेदपुर- आदित्यपुर एक औद्योगिक शहर समूह है। यहां के उद्योग जगत ने अपने औद्योगिक ऑक्सीजन सिलिंडरों को प्रशासन को सौंप दिया है। इसका असर इनके औद्योगिक उत्पादन पर पड़ रहा है। सरकार ने औद्योगिक उपयोग के लिये गैस की आपूर्ति बंद कर दिया है। फलत: संबंधित उद्योग बंद हो गये है एक आकलन होना चाहिये कि जमशेदपुर को कितना मेडिकल ऑक्सीजन की ज़रूरत है और कितना औद्योगिक ऑक्सीजन की। यहां पैदा होने वाले ऑक्सीजन में से कितना खपत झारखंड में होता है। कितना जमशेदपुर एवं समीपवर्ती क्षेत्रों में खपता है और कितना अन्य राज्यों में जा रहा है।

उन्होंने कहा कि देश में कितने नये ऑक्सीजन प्लांट लग रहे हैं। कुल ऑक्सीजन उत्पादन आज और साल भर में होने वाला है। संक्षेप में कहा जाय तो ऑक्सीजन की ऑडिट की जाय और उद्योगों के ऑक्सीजन की ज़रूरतें भी पूरी की जाय, ताकि उनका उत्पादन जारी रहे। बड़े औद्योगिक घराने तो अपनी ज़रूरत का औद्योगिक ऑक्सीजन ले ले रहे हैं। समस्या मध्यम, लघु एवं अति लघु उद्योगों को हो रही है। कुल औद्योगिक ऑक्सीजन में से मेडिकल ऑक्सीजन की पूर्ति होने के बाद इनका कोटा कितना हो सकता है। इसका निर्धारण होना चाहिये ताकि सीमित रूप में ही सही छोटे उद्योग भी चलने चाहिये।

उन्होंने कहा कि इस बारे में उन्होंने राज्य के मुख्य सचिव सुखदेव सिंह से बात किया तो उन्होंने बताया कि ऑक्सीजन का उत्पादन- वितरण पूर्णत: भारत सरकार ने अपने नियंत्रण में ले लिया है। झारखंड सरकार को भी अपने लिये ऑक्सीजन का क़रीब 130 टन ऑक्सीजन का आवंटन कराना पड़ा है, जबकि झारखंड में ऑक्सीजन का अफ़रात उत्पादन हो रहा है। अब आवश्यक हो गया है कि केन्द्र और राज्य सरकारें अपने कोविड संबंधी संसाधनों का उचित लेखा जोखा रखें।

हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES