झारखंड राज्य में मानव सेवा की एक मिसाल है सेवा भारती संगठन

Insightonlinenews Team

कोरोना के कारण लाॅकडाउन के चलते झारखंड राज्य में प्रभावित हजारों परिवारों को लंगर एवं राशन बांटने में सेवा भारती अग्रसर है

कोरोना महामारी के कारण पूरे राज्य में लॉकडाउन के परिप्रेक्ष्य में सेवा भारती, झारखंड के तत्वधान, झारखंड के रांची सहित 15 जिलों के कई स्थानों में जैसे बिरसा चैक, प्रकाश नगर, रांची, भाग-5 के टाटीसिल्वे स्थित चतरा बस्ती, खूंटी रोड स्थित हरदाग पंचायत के पिपरा टोली, जमशेदपुर, पलामू एवं विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों में सेवा भारती के युवा कार्यकर्ता जगह-जगह कच्चे राशन एवं लगर का वितरण लगातार लाॅकडाउन के बाद से ही गरीब और जरूरतमंदों में बीच में कर रहे हैं।

सेवा भारती की निस्वार्थ सेवा झारखंड में चलाये जा रहे सरकारी विभागों द्वारा और अन्य समाजिक संस्थाओं द्वारा की कड़ी में एक महत्वपूर्ण योगदान है। इसकी चर्चा झारखंड के जनमानस में बहुत सम्मानित ढंग से हो रही है। सेवा भारती संगठन के महत्वपूर्ण कर्ता-धर्ता जो इस अभियान को जन-जन तक पहुंचा रहे हैं जैसे-भोजन वितरण इत्यादि। उसमें बहुत से प्रमुख समाजसेवी, सर्वश्री रांची महानगर अध्यक्ष गिरीश मल्होत्रा, अनिरुद्ध कुमार,वेंकटरमन नायडू और प्रांतीय स्वालंबन प्रमुख सूर्यभान सिंह, सेवा भारती, भाग-4 के अध्यक्ष उमाशंकर शर्मा, कोषाध्यक्ष अखिलेश श्रीवास्तव, स्थानीय मुखिया रामअवतार केरकेट्टा का नेतृत्व एवं योगदान बहुत ही सराहनीय हैं।

इन तस्वीरों में सेवा भारती द्वारा चलाये जा रहे कि एक छोटी सी झलक दिखाई दे रही है। जबकि उनका कार्य क्षेत्र काफी बड़े पैमाने पर झारखंड के विभिन्न ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में फैला हुआ है और उनकी समर्पित कार्यकर्ता लगातार निस्वार्थ सेवा में जुटे हुये हैं और ये सराहनीय कार्य सेवा भारती के कर्ता-धर्ताओं की निगरानी में चलाया जा रहा है। इनके द्वारा कुछ एक महत्वपूर्ण उदाहरण भी स्थापित किये गये हैं जो अन्य जनों के लिए प्रेरणास्रोत्र भी है।

राष्ट्रीय सेवा भारती के न्यासी गुरुशरण प्रसाद द्वारा आए हुए ग्रामीणों को कोरोनावायरस संबंधित सावधानी एवं बचाव की जानकारी दी गई। लोगों को स्वयं की स्वच्छता के साथ साथ अपने घर-बस्तियों की साफ-सफाई पर पूरा ध्यान देने की बात कही गई ।

इसी तरह सेवा भारती, जमशेदपुर की ओर से बागबेड़ा स्थान पर संचालित निःशुल्क दाल – भात केंद्र से 200 जरूरतमंदों ने भोजन प्राप्त किया। इसी तर्ज पर डाल्टेनगंज के रेहला में सेवा भारती के अंतर्गत सनातन विद्या निकेतन में निःशुल्क दाल – भात केंद्र पर 317 जरूरतमंदों को भोजन प्रदान किया गया । साथ ही सेवा भारती , हजारीबाग की ओर से भी स्थानीय 110 परिवारों को सप्ताहिक कच्चा राशन प्रदान किया गया।

इन केंद्रों पर भोजन लेने वाले जरूरतमंदों की संख्या में वृद्धि हुई है। रोज कमा कर के रोज खाने वाले लोगों के रोजगार और आमदनी के सभी साधन बंद हो गए हैं। इनके घरों में भोजन की समस्याएं बढ़ी है। प्रतिदिन सेवा भारती के दाल भात केंद्रों से 2,500 से अधिक दिहाड़ी मजदूर, अभावग्रस्त, जरूरतमंद परिवारों के महिला , पुरुष , बच्चे दोपहर का भोजन प्राप्त करते हैं। साथ ही ऐसे केंद्रों पर आए हुए सभी लोगों को कोरोना वायरस संबंधित सावधानी व बचाव की कई जानकारियां दी जाती है। भोजन वितरण स्थल पर आने वाले लोग मास्क लगाकर आते हैं। एक दूसरे से पर्याप्त दूरी बनाकर के रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *