Seva Bharti’s magazine Seva Surbhi launched : सेवा भारती ने समाज में शिक्षा व संस्कार की जगाई है अलख : राज्यपाल

Insight Online News

रांची : सेवा भारती झारखंड की सेवा जागरण पत्रिका सेवा सुरभि का 22 वां विशेषांक स्वतंत्र भारत के 75 साल का लोकार्पण राज्यपाल रमेश बैस ने रविवार को गुरुनानक स्कूल के सभागार में किया। मौके पर राज्यपाल ने सेवा भारती के कार्यों की सराहना की। कहा कि इस संस्था के द्वारा शिक्षा व संस्कार के प्रचार -प्रसार को लेकर किए गए कार्य मील के पत्थर साबित होंगे। उन्होंने सशक्तीकरण के लिए सभी को सामाजिक सहभागिता के तहत काम करने पर जोर दिया।

देश की आजादी के अमृत वर्ष पर उन्होंने समाज के लोगों के अंदर छिपी प्रतिभा, हुनर, निपुणता को प्रकट कर अपनी प्रतिभा दिखाने की बात कही। कहा कि सरकारी संस्थानों के साथ एनजीओ को सामने आकर काम करना होगा। राज्यपाल ने कहा कि कोरोना काल में सेवा भारती की ओर से न सिर्फ जरूरतमंदों को भोजन कराया गया, बल्कि शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में भी रोजगार व स्वरोजगार के क्षेत्र में भी काम किया गया। सेवा भारती ने विभिन्न बस्तियों व गांवों में शिक्षा के साथ सामाजिक दायित्व की चेतना जागृत करने का कार्य किया है।

सेवा भारती ने भारतीयों की सेवा करने का बीड़ा उठाया है। अपने नाम के अनुरूप समाज के अत्यंत पिछड़े वर्गों के बीच शिक्षा,स्वास्थ्य,स्वालंबन जैसे सेवा कार्यों को संचालित कर लोगों को मुख्यधारा में लाने का प्रयत्न कर रही है। यह सेवा संस्था समाज के योगदान से देशव्यापी कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि आज भी आवश्यकता है कि सुदूर गांवों और अंतिम व्यक्ति तक विकास की किरणों को पहुंचाया जाए। पारंपरिक नृत्य ने बांधा समा : इससे पहले मौजूद अतिथियों का पारंपरिक नृत्य गान से स्वागत किया गया। फिर भारत माता के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। मौके पर सोमाली ग्रुप के बाल कलाकारों द्वारा गणेश वंदना नृत्य के साथ किया गया।

मंचासीन अतिथियों का परिचय स्वागत सेवा भारती ट्रस्ट, झारखंड के सचिव अखिलेश्वर नाथ मिश्र ने किया एवं प्रांतीय अध्यक्ष ओमप्रकाश केजरीवाल ने राज्यपाल को अंगवस्त्र व स्मृति चिन्ह भेंट कर किया। कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि शिक्षा राज्य मंत्री अन्नपूर्णा देवी ने कहा कि सेवा भारती अपनी पत्रिका के माध्यम से जन जागरूकता लाने का कार्य कर रही है और विभिन्न सेवा कार्यों के द्वारा समाज का उत्थान कर रही है। 19 जिलों में 1411 सेवा कार्य चल रहे हैं : कार्यक्रम में सेवा भारती के प्रांतीय सचिव ऋषि पाण्डेय ने संस्था के कार्यों के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि राज्य के 19 जिलों में समाज के सामूहिक सहयोग से 1411 सेवा कार्य चल रहे हैं। उन्होंने पत्रिका प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए कहा कि सेवा सुरभि के अब तक 21 विशेषांक प्रकाशित हो गए हैं। आज 22 वां विशेषांक स्वतंत्र भारत के 75 साल का लोकार्पण है। इस विशेषांक में देश के ख्याति प्राप्त लेखकों,कवियों की महत्वपूर्ण रचनाओं को समाहित किया गया है।

अन्नपूर्णा देवी ने बाल कलाकारों को किया पुरस्कृत : मौके पर बाल कलाकारों को केंद्रीय मंत्री अन्नपूर्णा देवी ने पुरस्कृत किया एवं पत्रिका की संपादक डा सुष्मिता पाण्डेय, कार्यक्रम संचालक मधुस्मिता व एकल गीत प्रस्तुति के लिए मंजूषा देशमुख को राज्यपाल रमेश बैस ने सम्मानित किया। सेवा भारती के संरक्षक व न्यूरो सर्जन डस एचपी नारायण ने सभी अतिथियों का स्वागत किया और ऐसे कार्य आगे भी होने की बात कही।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से राष्ट्रीय सेवा भारती के गुरुशरण प्रसाद, सांसद संजय सेठ, महापौर आशा लकड़ा , उपमहापौर संजीव विजयवर्गीय, सीसीएल के पूर्व सीएमडी गोपाल सिंह, पूर्व कुलपति डा रमेश पांडेय, रांची विश्वविद्यालय की कुलपति डा कामिनी कुमार, झारखंड टेक्निकल यूनिवर्सिटी के कुलपति डा पीके मिश्रा, पूर्व विधायक रामकुमार पाहन, जीतू चरण राम, प्रेम अग्रवाल, पवन मंत्री, राधेश्याम अग्रवाल, वीएन पांडेय, एके मिश्रा, एनएन पाण्डेय, डा नागेश्वर सिंह, अशोक प्रियदर्शी, डा हरेंद्र प्रसाद सिन्हा सहित अन्य गणमान्य मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *