St. Albert’s College Ranchi Jharkhand Program : संत अल्बर्टस कॉलेज में कॉलेज दिवस उत्साह पूर्वक मनाया गया

Insight Online News

संत अल्बर्टस कॉलेज राँची में सेमिनरी दिवस धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर धार्मिक, सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं फुटबॉल मैच का आयोजन किया गया। कोरोना मापदंड को ध्यान में रखते हुए बाहरी अतिथियों को आमंत्रित नहीं किया गया था। इसमें कॉलेज के विद्यार्थी तथा स्टाफ शामिल हुए। धार्मिक अनुष्ठान मिस्सा पूजा से किया गया जिसके मुख्य अनुष्ठाता कॉलेज के चांसलर व रांची महाधर्मप्रान्त के महाधर्म अध्यक्ष फेलिक्स टोप्पो थे। मिस्सापुरान्त संत अल्बर्ट के प्रतिमा पर बिशप थिओडोर मस्करन्स के द्वारा माल्यार्पण किया गया। कार्यक्रम के अगली कड़ी में दीक्षांत समारोह सम्पन्न कराए गए जिसमें 26 विधरार्थिओं को बैचलर ऑफ थियोलॉयजी का डिग्री अवार्ड प्रदान किया गया। अवॉर्ड परितोषित आर्च बिशप फेलिक्स टोप्पो के करकमलों से किया गया। ब्रदर फिलमोन लकड़ा ने प्रथम स्थान हासिल किया वहीं ब्रदर रंजीत मोचाहरी द्वितीय व सिस्टर वेरोनिका तिरकी तृतीय स्थान पर रहे। इस समारोह में येसु मेरी ज्योति एवं जीवनदाता विषय पर फादर फेबियन कुल्लू ने वक्तब्य प्रस्तुत किया।

कॉलेज के वाईस चांसलर व खूंटी के धर्म अध्यक्ष विनय कंडुलना ने अपने प्रोत्साहन के दो शब्द में कहा इस सेमिनरी ने भूत में महान विभूतियों को सृजित किया है जो देश तथा लोगो की सेवा में समर्पित है। आज भी सेमिनरी कीर्तिमान के पथ पर आगे बढ़ रहा है। यहां ब्रदरगण रेशम के कुकुन की तरह तैयार होते है और बाद में तितली की तरह उड़ान भरते है। रेक्टर फादर अजय खलखो ने चार स्तरीय प्रशिक्षण के बारे में बतलाया जिसमें मानवीय विकास, आध्यात्मिक विकास, मानसिक विकास तथा सेवकाई प्रशिक्षण जुड़ा हुआ है। यह कॉलेज प्रशिक्षु को इन्हीं पथ पर आगे बढ़ाता है। येसु ख्रीस्त इनके आदर्श बनते हैं।

कार्यक्रम के अगले भाग में दर्शनशास्त्र तथा ईसशास्त्र टीम के बीच फुटबॉल मैच खेला गया। इस रोमांचकारी मैच में ईसशास्त्र टीम ने 1 के मुकाबले 2 गोल से विजयी रही। उत्सव केअंतिम चरण में सांस्कृतिक कार्यकर्म सम्पन्न हुआ। इसका संचालन ब्रदर दिलीप मिंज ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *