Supreme Court : संवैधानिक कोर्ट किसी मंदिर के दैनिक कार्यों की जांच नहीं कर सकता : सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली, 16 नवंबर । संवैधानिक कोर्ट किसी मंदिर के दैनिक कार्यों की जांच नहीं कर सकता है। चीफ जस्टिस एनवी रमना की अध्यक्षता वाली बेंच ने तिरुमाला के तिरुपति बालाजी मंदिर परिसर में मंदिर के उत्सव के समय पूजा विधि को लेकर सवाल उठाने वाली याचिका पर सुनवाई से इनकार करते हुए ये टिप्पणी की।

याचिका बालाजी मंदिर के एक श्रद्धालु सिवरा दादा ने दायर की थी। 29 सितंबर को सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता ने कहा था कि यह मौलिक अधिकारों का मामला है। तिरुपति मंदिर में पूजा कैसे हो रही है, यही सवाल है। तब चीफ जस्टिस ने पूछा था कि क्या हम पूजा में हस्तक्षेप कर सकते हैं कि इसे कैसे आयोजित किया जाए। चीफ जस्टिस ने कहा था कि मैं, मेरे भाई, मेरी बहन सब बालाजी के भक्त हैं। हम सभी पूजा करते हैं और उम्मीद करते हैं कि देवस्थानम परंपराओं का ख्याल रखेगा और सभी अनुष्ठानों और रीति रिवाजों का पालन करेगा।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *