Supreme Court’s advice : सुप्रीम कोर्ट की नसीहत, अदालतों में बार और बेंच के बीच सौहर्दपूर्ण रिश्ते बेहद जरूरी

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि अदालतों में न्याय के सुचारू संचालन एवं प्रशासन के लिए बार और बेंच के बीच सौहर्दपूर्ण रिश्ते बेहद जरूरी हैं। जस्टिस एम.आर. शाह और जस्टिस बी.वी. नागरत्ना की पीठ ने यह टिप्पणी एक वकील की अपील का निपटारा करते हुए की जिन्होंने उत्तराखंड हाई कोर्ट के एक जज के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियां की थीं। याचिकाकर्ता वकील के आचरण पर संज्ञान लेते हुए हाई कोर्ट ने उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए मामला बार काउंसिल को संदर्भित कर दिया था।

हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ वकील ने शीर्ष अदालत में अपील की थी। शीर्ष अदालत ने कहा कि अदालत में उपद्रवी व्यवहार से किसी वकील को फायदा नहीं हुआ है। अंतत: इससे कोर्ट रूम का माहौल खराब होता है और याचिकाकर्ता का केस भी बिगड़ सकता है। याचिकाकर्ता की कोई गलती नहीं होने पर भी उसे परिणाम भुगतना पड़ सकता है। याचिकाकर्ता वकील ने हाई कोर्ट में अपने व्यवहार के लिए बिना शर्त माफी मांग ली। इस पर शीर्ष अदालत ने उनसे हाई कोर्ट के जज के समक्ष पेश होकर माफी मांगने को कहा। वकील के माफी मांग लेने और हाई कोर्ट जज द्वारा माफ कर देने पर शीर्ष अदालत ने याचिका का निपटारा कर दिया।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *