Telangana News Update: मुख्यमंत्री ने वैक्सीन के लिए ग्लोबल टेंडर आमंत्रित करने के दिए निर्देश

हैदराबाद, 18 मई । मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने राज्य में कोविड वैक्सीन की जरूरत काे पूरा करने के लिए ग्लोबल टेंडर आमंत्रित करने और राज्य के 48 सरकारी अस्पतालों में 324 मीट्रिक टन क्षमता वाले ऑक्सीजन के प्लांटों की स्थापना के लिए तत्काल आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिये हैं।

मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी एक बयान में बताया कि मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में हैदराबाद में अतिरिक्त रूप से 100 मीट्रिक टन क्षमता वाले लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट लगाने के निर्देश दिये। इसके अलावा हैदराबाद, जिला व क्षेत्रीय अस्पतालों में 16 मीट्रिक टन वाले छह यूनिट, 08 मीट्रिक टन वाली 15 यूनिट, 4 मीट्रिक टन वाले 27 यूनिट लगाने को कहा है। मुख्यमंत्री ने इसके अलावा ऑक्सीजन टैंकर बनाने वालों से 20 टन की क्षमता वाले 11 टैंकर आगामी 10 दिन में उपलब्ध कराने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में तेलंगाना को ऑक्सीजन के लिए आत्मनिर्भ बनना चाहिए। केसीआर ने अधिकारियों को कोविड वैक्सीन के लिए ग्लोबल टेंडर आमंत्रित करने के निर्देश देते हुए कहा कि केंद्र सरकार से आने वाली वैक्सीन के लिए केंद्र अधिकारियों से लगातार बातचीत करें।

उन्होंने ऑक्सीजन की आपूर्ति में सरकारी अस्पतालों को ही प्रथम प्राथमिकता देने और सरकारी अस्पतालों में निःशुल्क कोविड इलाज व अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने गरीब कोविड रोगियों को सरकारी दवाखानों में भर्ती होने का सुझाव दिया। उन्होंने बताया कि आज सरकारी अस्पतालों में कुल 6,926 बिस्तर खाली हैं। इनमें 2,253 ऑक्सीजन बेड, 533 आईसीयू बेड और 4,140 सामान्य बिस्तर शामिल हैं। सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन बिस्तर, रेमडेसिविर इंजेक्शन के अलावा सभी आवश्यक दवाएँ उपलब्ध करायी गयी है। राव ने बताया कि निजी अस्पतालों में कोविड इलाज से संबंधित दरों को तय किया गया है।

बैठक में वित्त मंत्री हरीश राव, राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष विनोद कुमार, मुख्य सचिव सोमेश कुमार व अन्य संबंधित उच्च अधिकारी उपस्थित थे।

बैठक में अधिकारियों ने बताया कि अब तक केंद्र सरकार से राज्य को वैक्सीन की 57,30,220 डोज मिली हैं। फिलहाल राज्य में 1,86,780 डोज उपलब्ध है। इनमें कोवैक्सीन की 58,230 और कोविशील्ड की 1,28,550 खुराकें शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि लॉकडाउन, बुखार सर्वे और उन्हें कोविड किटों का वितरण आदि के चलते अस्पतालों में भर्ती होने वाले कोविड रोगियों की संख्या कम हुई है। उन्होंने मेडिकल टीमों से बुखार सर्वे में कोविड लक्षण वाले लोगों के लगातार संपर्क में रहने को कहा है। उन्होंने जनता से कोरोना को लेकर भयभीत नहीं होने की अपील की है।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.