प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक होना एक गंभीर मामला-गहलोत

Insight Online News

जयपुर 06 जनवरी : राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक होने को एक गंभीर मामला बतातेे हुए कहा है कि राजनीति करने की बजाय एसपीजी, आईबी तथा अन्य एजेंसियों की जिम्मेदारी तय होनी चाहिए।

श्री गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए कहा कि भाजपा द्वारा इस मुद्दे पर कांग्रेस एवं पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के खिलाफ की जा रही टिप्पणियां एवं मुद्दे की गंभीरता को कम करती है, इसकी निंदा की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक होना एक गंभीर मामला है। पूर्व में देश के दो प्रधानमंत्रियों इन्दिरा गांधी एवं राजीव गांधी की हत्या हो चुकी है। जिसके बाद प्रधानमंत्री की सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी एसपीजी को दी गई।

पीएम की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एसपीजी एक्ट में विशेष प्रावधान किए गए हैं।

उन्होंने कहा कि पीएम के दौरे पर सुरक्षा की जिम्मेदारी एसपीजी एव आईबी की होती है तथा राज्य पुलिस एसपीजी के निर्देशों एवं सलाह का पालन करती है। एसपीजी की अनुमति के बिना पीएम का काफिला आगे नहीं बढ़ सकता है। एसपीजी को बताना चाहिए कि बिना पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के प्रधानमंत्री को दो घंटे से अधिक समय की सड़क यात्रा क्यों करवाई गई। पंजाब के सीएम ने बताया कि किसानों के प्रदर्शन के बारे में पूर्व में जानकारी दे दी गई थी, तब भी प्रदर्शन वाले रास्ते में पीएम के काफिले को जाने की अनुमति एसपीजी ने क्यों दी।

जोरा, वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *