हिसार के ‘इंटीग्रेटेड एवियेशन हब’ के कार्यों में तेजी लाई जाए: मनोहर लाल

चंडीगढ़, 22 जुलाई । हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि ‘महाराजा अग्रसेन एयरपोर्ट, हिसार’ पर विकसित किए जा रहे ‘इंटीग्रेटेड एवियेशन हब’ से संबंधित कार्यों में तेजी लाई जाए, यह एक अंतरराष्ट्रीय स्तर का प्रोजेक्ट है और इससे प्रदेश में विकास को गति मिलेगी।

मुख्यमंत्री शुक्रवार को चंडीगढ़ में ‘महाराजा अग्रसेन एयरपोर्ट,हिसार’ पर विकसित किए जा रहे ‘इंटीग्रेटेड एवियेशन हब’ से संबंधित कार्यों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। इस अवसर पर हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि ‘महाराजा अग्रसेन एयरपोर्ट, हिसार’ को विकसित करने में देरी न की जाए और इसके लिए धन को जारी करने में ढिलाई नहीं बरती जानी चाहिए।

उन्होंने एयरपोर्ट की बाउंड्री के निर्माण कार्य व लाइट्स लगाने के काम में तेजी लाने के निर्देश देते हुए कहा कि राज्य सरकार का प्रयास है कि वर्ष 2023 में इस एयरपोर्ट सेे विमान सेवा नियमित रूप से आरंभ कर दी जाए। उन्होंने नई दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट से ‘महाराजा अग्रसेन एयरपोर्ट, हिसार’ तक रेल कनेक्टिविटी के लिए रूट को जल्द से जल्द फाइनल करने, विमान-सेवा के लिए हिसार से विभिन्न रूट्स तय करने के निर्देश देते हुए कहा कि इस एयरपोर्ट के लिए जलापूर्ति, ड्रेनेज सिस्टम तथा रॉ-वॉटर के स्टोरेज के लिए किए जा रहे कार्यों को जल्द से जल्द पूरा किया जाए।

बैठक में मुख्यमंत्री को जानकारी दी गई कि पर्यावरण एवं वन विभाग द्वारा ‘इंटीग्रेटेड एवियेशन हब’ के दूसरे चरण के विकास कार्यों के लिए 23 नवंबर 2020 को क्लीयरेंस मिलने के बाद एयरक्रॉफ्ट पार्किंग के लिए तीन बड़े हैंगर का निर्माण 18 अगस्त 2021 को पूरा हो चुका है। इसके अलावा निर्माण-स्थल से पुरानी बिल्डिंग्स को तोड़ दिया गया है और वॉटर-चैनल्स को शिफ्ट कर दिया गया है। करीब 7,115 एकड़ जमीन का म्यूटेशन भी नागरिक उड्यन विभाग के नाम हो चुका है।

इसी प्रकार, रनवे, पीटीटी, टैक्सी-वे, एप्रोन आदि का 80 प्रतिशत तथा 33 केवी सब-स्टेशन का निर्माण का काम 70 प्रतिशत तक पूरा कर लिया गया है। मुख्यमंत्री ने ‘इंटीग्रेटेड एवियेशन हब’ से संबंधित कार्यों की सिलसिलेवार समीक्षा की और शेष कार्यों को निर्धारित अवधि में पूरा करने के निर्देश दिए।

बैठक में मुख्यमंत्री के प्रमुख प्रधान सचिव डी.एस ढेसी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव वी. उमाशंकर, बिजली विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पी.के दास, वित्त एवं योजना विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टी.वी.एस.एन प्रसाद, नागरिक उड्डयन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुधीर राजपाल, लोक निर्माण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अनुराग रस्तोगी के अलावा अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.