थॉमस कप : भारत ने रचा इतिहास, 73 साल बाद थॉमस कप के फाइनल में बनाई जगह

बैंकॉक, 14 मई । भारतीय पुरुष बैडमिंटन टीम ने ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए प्रतिष्ठित थॉमस कप के फाइनल में प्रवेश कर लिया है। शुक्रवार को खेले गए एक कठिन सेमीफाइनल मैच में भारत ने डेनमार्क को 3-2 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया।

शक्तिशाली डेनमार्क के खिलाफ रोमांचक मैच में भारतीय टीम ने शक्ति और दृढ़ता का बेहतरीन प्रदर्शन किया। भारत ने अब कम से कम एक रजत पदक पक्का कर लिया है और वह फाइनल में इंडोनेशिया से खेलेगा। भारत ने 73 साल पहले टूर्नामेंट शुरू होने के बाद पहली बार थॉमस कप के फाइनल में प्रवेश किया है।

पहले मैच में भारत के लक्ष्य सेन ने डेनमार्क के मशहूर खिलाड़ी विक्टर एक्सेलसन से मुकाबला किया। डेनिश खिलाड़ी अपनी प्रतिष्ठा पर कायम रहे और विश्व के नौवें नंबर के खिलाड़ी सेन को अंतत: सीधे गेमों में 21-13, 21-13 से हार का सामना करना पड़ा।

इसके बाद युगल मुकाबले में सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी ने डेनमार्क के किम एस्ट्रुप और माथियास क्रिस्टियनसेन को 21-18, 21-23, 22-20 से हराया।

विश्व के पूर्व नंबर 1 श्रीकांत किदांबी ने तीसरे मैच में एंडर्स एंटोनसेन को 21-18, 12-21, 21-15 से हराकर भारत को 2-1 से आगे कर दिया।

चौथे मैच में, कृष्णा प्रसाद और विष्णुवर्धन की भारतीय जोड़ी को एंडर्स स्कारुप रासमुसेन और फ्रेडरिक सोगार्ड ने 39 मिनट तक चले मुकाबले में 21-14, 21-13 से हराकर डेनमार्क को 2-2 की बराबरी दिला दी।

पांचवें और महत्वपूर्ण मैच में, एचएस प्रणय ने रैसमस गेम्के को 13-21, 21-9, 21-12 से हराकर भारत को 3-2 से यादगार जीत दिलाई।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.