Toy train service : स्थगित सिलीगुड़ी-दार्जिलिंग टॉय ट्रेन सेवा करीब चार महीने बाद बहाल

Insight Online News

सिलीगुड़ी, 25 अगस्त : लोको इंजीनियरिंग के विक्टोरियाई युग के लिए यूनेस्को की साइट प्रतिष्ठित टॉय ट्रेन या दार्जिलिंग हेरिटेज रेलवे (डीएचआर) ने करीब चार महीने तक स्थगित रहने के बाद बुधवार को सिलीगुड़ी से लेकर दार्जिलिंग तक की यात्रा फिर शुरू कर दी।

पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि पहाड़ों की रानी (दार्जिलिंग) में आने वाले पर्यटकों को आकर्षित करने के उद्देश्य से रेलवे लिंक को बहाल कर दिया गया है। तीन कोच वाली 52541 एनजेपी-डीजे पैसेंजर न्यू जलपाईगुड़ी से 10:00 बजे में रवाना होगी तथा लगभग सात घंटे में करीब 87 किमी की दूरी और 12 स्टेशनों को पार कर 17:20 बजे दार्जिलिंग पहुंचेगी।

दार्जिलिंग से यह 08:00 बजे रवाना होकर घूम, सोनाडा, तुंग, कुर्सेओंग, महानदी गयारी, तिंधरिया, रंगटोंग, सुकना और सिलीगुड़ी के रास्ते 15:15 बजे एनजेपी पहुंचेगी।

एनएफआर ने 16 अगस्त को आंशिक रूप से दार्जिलिंग और घूम के बीच रेल लिंक को बहाल कर दिया था लेकिन 87 किलोमीटर की दूरी तय करने वाले पूरे सर्कल पर परिचालन आज से बहाल किया गया।

डीएचआर तीन स्टीम लोको भी चलाएगा, जो यात्रियों के लिए विक्टोरियाई युग की इंजीनियरिंग का एक चमत्कार है। जॉय राइड के सभी कोच प्रथम श्रेणी के हैं और यात्रा में घूम में रेलवे संग्रहालय का दौरा भी शामिल है। डीएचआर को सदियों पुराने हेरिटेज स्टीम इंजनों द्वारा खींचा जाता है।

टिकट देश की किसी भी अन्य ट्रेन की तरह आईआरसीटीसी वेबसाइट के माध्यम से बुक किए जा सकते हैं।

गौरतलब है कि कोविड-19 लॉकडाउन के कारण डीएचआर की आवाजाही लगभग चार महीने के लिए स्थगित कर दी गयी थी। दार्जिलिंग जाने वाले यात्रियों के पास कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके होने का प्रमाण पत्र या महामारी के मानदंडों को बनाये रखने के लिए अन्य दस्तावेज होना अनिवार्य है।

यामिनी.श्रवण, वार्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *