HindiNationalNewsPolitics

पश्चिम बंगाल के जूट बेल्ट में भी बढ़ा तृणमूल का वर्चस्व

कोलकाता। पूरे देश के साथ पश्चिम बंगाल में भी लोकसभा चुनाव के परिणाम चौंकाने वाले रहे हैं। राज्य की 42 में से 29 सीटों पर सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने जीत दर्ज कर ली है जबकि विपक्षी भाजपा 2019 में जीती हुई 18 से 12 पर सिमट चुकी है। 2019 में जीती हुई सीटों में से आठ सीटें भाजपा गंवा चुकी है।

राज्य के हुगली और उत्तर 24 परगना जैसे जूट बेल्ट में भी भाजपा को भारी नुकसान हुआ है। दूसरी ओर सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने इस क्षेत्र में अपना जनाधार मजबूत किया है। पश्चिम बंगाल की जूट पट्टी से संबंधित छह निर्वाचन क्षेत्रों में तृणमूल जीती है जबकि पिछले चुनाव में इनमें से तीन सीट भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को मिली थी।

पिछले चुनाव में भाजपा ने जूट पट्टी की तीन सीटें कूचबिहार, बैरकपुर और हुगली में जीत दर्ज की थी।

कूचबिहार में तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार जगदीश बसुनिया अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी भाजपा उम्मीदवार और केंद्रीय मंत्री निसिथ प्रमाणिक को करीब 39 हजार वोटो के अंतर से हराया है। हुगली में भी तृणमूल कांग्रेस की रचना बनर्जी भाजपा की मौजूदा सांसद लॉकेट चटर्जी को हरा चुकी हैं। बैरकपुर में तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार पार्थ भौमिक ने भाजपा के मौजूदा सांसद अर्जुन सिंह को मात दी है।

तृणमूल कांग्रेस ने जूट पट्टी की दो अन्य सीटों पर भी अच्छा प्रदर्शन किया है। मुर्शिदाबाद में तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार अबू ताहिर खान अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के मोहम्मद सलीम पर जीत दर्ज कर चुके हैं। इस निर्वाचन क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार तीसरे स्थान पर रहे। इसी तरह हावड़ा में तृणमूल कांग्रेस के प्रसून बनर्जी ने भाजपा के रथिन चक्रवर्ती को हराया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *