HindiInternationalNews

गुप्त धन मामले में ट्रम्प दोषी करार, बाईडेन टीम ने कहा- ‘कानून से ऊपर कोई नहीं’

न्यूयॉर्क। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को न्यूयॉर्क में एक ऐतिहासिक आपराधिक मुकदमे में व्यावसायिक रिकॉर्ड में हेराफेरी करने के सभी 34 मामलों में दोषी ठहराया गया है।

श्री ट्रम्प को दोषी ठहराये जाने के तुरंत बाद राष्ट्रपति जो बाईडेन की टीम ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा , “कोई भी कानून से ऊपर नहीं है।”
यह पहला मौका है कि किसी पूर्व या सेवारत अमेरिकी राष्ट्रपति को किसी अपराध के लिए दोषी ठहराया गया है। श्री ट्रम्प को 11 जुलाई को सजा सुनाई जाएगी। पूर्व राष्ट्रपति को जेल का सामना करना पड़ सकता है, हालांकि कानूनी विशेषज्ञों ने मीडिया को बताया कि दस तरह के मामलों में जुर्माना अधिक संभावित परिणाम हो सकता है।
श्री ट्रम्प ने फैसले को अपमानजनक बताया और मामले की अध्यक्षता करने वाले न्यायाधीश पर जुबानी हमला बोला।

फैसला पढ़े जाने के बाद श्री ट्रम्प ने अदालत में कहा, “यह एक विवादित न्यायाधीश द्वारा किया गया धांधली का मुकदमा था, जो भ्रष्ट था। यह एक धांधलीपूर्ण मुकदमा था, एक अपमान।”

अदालती घटनाक्रम के बाद विस्तारित कारोबार में ट्रम्प मीडिया एंड टेक्नोलॉजी ग्रुप के शेयर 6 फीसदी से अधिक गिरकर 48.66 डॉलर प्रति शेयर पर आ गए।
यह फैसला ऐसे समय आया है जब श्री ट्रम्प आगामी नवंबर में होने वाले चुनाव में श्री बाईडेन को हराने और व्हाइट हाउस में वापसी के लिए अभियान चला रहे हैं।

बीबीसी की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि अदालत ने छह सप्ताह में 22 गवाहों से सुनवाई की। इन गवाहों में स्टॉर्मी डेनियल भी शामिल हैं, जो श्री ट्रम्प के साथ कथित यौन संबंध को लेकर इस मामले के केंद्र में थी।

श्री ट्रम्प पर 2016 के चुनावों से कुछ समय पहले पूर्व पोर्न फिल्म स्टार की मुंह बंद रखने के एवज में अपने पूर्व वकील द्वारा किए गए भुगतान को छुपाने का आरोप लगाया गया था। सर्वसम्मत फैसले पर पहुंचने से पहले 12 जूरी सदस्यों ने दो दिनों तक विचार-विमर्श किया।

श्री ट्रम्प के शीर्ष वकीलों में से एक ने फॉक्स न्यूज को बताया है कि पूर्व राष्ट्रपति की कानूनी टीम अपील के लिए “सभी विकल्पों पर विचार” कर रही है।
विल शर्फ ने कहा, “इस मामले का हर पहलू अपील के लिए उपयुक्त है।” “हम जितनी जल्दी हो सके अपील करने जा रहे हैं।”

‘गार्जियन’ की रिपोर्ट के अनुसार फैसले के तुरंत बाद भेजे गए एक ईमेल में जो बाईडने के अभियान ने कहा, “कोई भी कानून से ऊपर नहीं है।”
श्री बाईडने के संचार निदेशक माइकल टायलर ने लिखा, “न्यूयॉर्क में आज हमने देखा कि कोई भी कानून से ऊपर नहीं है। डोनाल्ड ट्रम्प ने हमेशा गलती से यह विश्वास किया है कि अपने निजी लाभ के लिए कानून तोड़ने पर उन्हें कभी भी परिणाम भुगतना नहीं पड़ेगा।”

“लेकिन आज का फैसला इस तथ्य को नहीं बदलता है कि अमेरिकी लोगों को एक साधारण वास्तविकता का सामना करना पड़ता है।”
मैनहट्टन जिला अटॉर्नी के कार्यालय ने ट्रम्प मामले में आरोप लगाया कि श्री ट्रम्प ने अपने पूर्व वकील माइकल कोहेन को की गई प्रतिपूर्ति को गलत तरीके से दर्ज किया, जिन्होंने श्री ट्रम्प के साथ अपने संबंध के बारे में चुप्पी के लिए वयस्क फिल्म स्टार स्टॉर्मी डेनियल्स को “कानूनी खर्च” के रूप में 1लाख 30 हजार डॉलर का भुगतान किया।
अभियोजन पक्ष ने आरोप लगाया कि श्री ट्रम्प द्वारा न्यूयॉर्क राज्य चुनाव कानून के उल्लंघन को छुपाने के लिए हेराफेरी की गई, जो गैरकानूनी तरीकों से किसी भी व्यक्ति के चुनाव को बढ़ावा देना अपराध बनाता है।

गार्जियन के अनुसार अभियोजकों ने आंशिक रूप से तर्क दिया कि वे गैरकानूनी तरीके डेनियल्स को 1 लाख 30 हजार डॉलर का भुगतान थे, जो वास्तव में एक अवैध अभियान योगदान था, क्योंकि यह पूरी तरह से उनके 2016 के अभियान के लाभ के लिए किया गया था और 2 हजार 700 व्यक्तिगत योगदान सीमा से अधिक था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *