UK government recognized the covaxine : कोवैक्सीन लगवा चुके भारतीय बिना रोक-टोक कर सकेंगे यात्रा, ब्रिटेन सरकार ने दी मान्यता

लंदन : भारत बायोटेक की कोविड-19 वैक्सीन ‘कोवैक्सीन’ लगवा चुके लोगों को ब्रिटेन बड़ी राहत देने जा रहा है। ब्रिटिश सरकार ने घोषणा की है कि वह 22 नवंबर से कोवैक्सिन को आपातकालीन उपयोग सूची में शामिल करेगा। इसके बाद इस वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके लोग बिना रोक-टोक ब्रिटेन की यात्रा कर सकेंगे। ब्रिटेन के उच्चायुक्त एलेक्स एलिस ने इसको लेकर ट्विट भी किया है। उन्होंने कहा है कि 22 नवंबर से यूके भारत की कोवाक्सिन को भी आपातकालीन उपयोग सूची में शामिल करेगा। इसके बाद दोनों टीके लगवा चुके लोगों को सेल्फ आइसोलेट होने की आवश्यकता नहीं होगी।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने पिछले दिनों भारत बायोटेक की कोविड-19 वैक्सीन कोवाक्सिन को आपातकालीन उपयोग सूची में शामिल किया था। इसी के बाद ब्रिटेन ने यह कदम उठाया है। इससे पहले पिछले महीने ही ब्रिटेन ने कोविशील्ड को भी अपनी अनुमोदित सूची में शामिल किया था। यहां तक कि 18 वर्ष से कम उम्र के यात्रियों को भी ब्रिटेन ने राहत दी है। इन यात्रियों को भी पूरी तरह से वैक्सीनेटेड यात्री माना जाएगा। साथ ही इन्हें किसी टेस्ट या आइसोलेशन से नहीं गुजरना होगा। हालांकि, इन यात्रियों को एक कोविड-19 टेस्ट की रिपोर्ट अपने साथ रखनी होगी।

ब्रिटेन सरकार ने कहा है कि भारत की कोवाक्सिन के अलावा चीन निर्मित सिनोवैक व सिनोफार्मा कोविड-19 टीकों को भी आपातकालीन उपयोग सूची में शामिल किया जाएगा। इन दोनों वैक्सीन को भी डब्यूएचओ ने मान्यता प्रदान की है। ब्रिटेन सरकार की ओर से किए गए ये सभी बदलाव 22 नवंबर को सुबह चार बजे से प्रभावी होंगे।

यूके के परिवहन मंत्री ग्रांट शाप्स ने सोमवार को कहा कि यात्रा नियमों को और सरल बनाया जा रहा है, 18 साल से कम उम्र के सभी यात्रियों को टीका लगवा चुके यात्रियों जैसा माना जाएगा। ऐसे यात्रियों को केवल आगमन के बाद अपनी एक जांच करानी होगी और उससे संबंधित प्रमाणपत्र साथ रखना होगा। यात्रा नियमों को सरल करने के बाद कोविड-19 वैक्सीन लगवा चुके यात्रियों की संख्या में भी इजाफा हुआ है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *