UP assembly election : नेताओं को रिझाने के लिए कांग्रेस कर रही है हर मुमकिन कोशिश

प्रयागराज। ‘पूरब और पश्चिम’ का 1970 का हिट ‘कोई जब तुम्हारा हृदय तोड़ दे’ अपने नए अवतार में अब होर्डिंग्स पर वापस आ गया है और निराश नेताओं को आकर्षित कर रहा है जो टिकट पाने में विफल रहे हैं। प्रयागराज और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक पोस्टर अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं को आमंत्रित करने के लिए ध्यान आकर्षित कर रहा है, जिन्हें विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए टिकट नहीं मिला है।

प्रयागराज कांग्रेस कमेटी के महासचिव इरशाद उल्लाह द्वारा सोशल मीडिया पर ‘एसपी में हाउसफुल’ कैप्शन वाले पोस्टर को अपलोड किया गया है।

पोस्टर में लिखा है, “कोई जब तुमसे मुंह फेर ले, और वो चुनाव का टिकट भी ना दे, तब तुम मेरे पास आना गुरु, मेरा घर खुला है, खुला ही रहेगा तुम्हारे लिए।”

इरशाद उल्लाह ने संवाददाताओं से कहा कि हाल के दिनों में समाजवादी पार्टी में शामिल हुए विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं को उचित सम्मान नहीं मिला है।

उन्होंने कहा कि हम ऐसे नेताओं से अपील करते हैं जो देश, समाज और राज्य को गलत हाथों में जाने से बचाना चाहते हैं। उन्हें एआईसीसी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के नेतृत्व में कांग्रेस में शामिल होना चाहिए।

भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद और कांग्रेस के पूर्व नेता इमरान मसूद का उदाहरण देते हुए, जिन्हें क्रमश: समाजवादी पार्टी में सम्मान नहीं मिला, उल्लाह ने कहा कि यह केवल प्रियंका गांधी वाड्रा थीं जिन्होंने जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं को टिकट दिया है। यह कांग्रेस है जो आम आदमी के अधिकारों के लिए लड़ रही है। वह दिन दूर नहीं जब राज्य के लोग इस तथ्य को स्वीकार करेंगे और कांग्रेस का समर्थन करेंगे।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published.