ताइवान के जीवंत लोकतंत्र का समर्थन करता है अमेरिका : पेलोसी

-अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की स्पीकर के ताइवन पहुंचने से बढ़ा चीन के साथ तनाव

ताइपे, 03 अगस्त । अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैंसी पेलोसी मंगलवार की रात ताइवान पहुंचीं। पेलोसी ने ताइवान पहुंचने के ठीक बाद एक बयान में कहा कि अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल की यात्रा ताइवान के जीवंत लोकतंत्र का समर्थन करने के लिए अमेरिका की अटूट प्रतिबद्धता को दर्शाती है। वहीं पेलोसी के चीन पहुंचने से चीन के साथ अमेरिका के तनाव बढ़ गए हैं।

पेलोसी ने कहा कि हमारी यात्रा ताइवान पहुंचे कई कांग्रेस प्रतिनिधिमंडलों में से एक है-और यह किसी भी तरह से अमेरिका की लंबे समय से जारी नीति के विपरीत नहीं है। इसके साथ ही पेलोसी 25 साल में ताइवान का दौरा करने वाली अमेरिका की सर्वोच्च अधिकारी बन गई हैं।

चीन ने धमकी दी थी कि यदि पेलोसी ताइवान की यात्रा करती हैं तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। अमेरिकी वायुसेना के विमान से पहुंचीं पेलोसी और उनके प्रतिनिधिमंडल का ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने ताइपे हवाई अड्डे पर स्वागत किया। पेलोसी के बुधवार को ताइवानी राष्ट्रपति त्सी-इंग-वेन से मिलने की उम्मीद है।

एक जानकारी के अनुसार चीनी सेना ताइवान के आपसपास के जलक्षेत्र में बृहस्पतिवार से रविवार तक सैन्य अभ्यास करेगी।

चीनी विदेश मंत्री वांग ई ने कहा कि कि ताइवान मुद्दे पर वाशिंगटन का विश्वासघात उसकी राष्ट्रीय विश्वसनीयता को नष्ट कर रहा है। उन्होंने एक बयान में कहा, कुछ अमेरिकी आग से खेल रहे हैं। निश्चित रूप से इसका अच्छा नतीजा नहीं होगा

(हि.सं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.