इटावा में तीन जगह दीवार गिरी, हादसे में चार भाई-बहन सहित सात की मौत

  • जनपद के सभी विद्यालयों को तीन दिन तक बंद रखने का आदेश

इटावा, 22 सितम्बर । बारिश की वजह से उत्तर प्रदेश के इटावा जनपद में तीन जगह कच्ची दीवार गिरने से मासूम समेत सात लोगों की मौत हो गई है। छह लोग घायल है। हादसे को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुख प्रकट किया है। साथ ही उन्होंने दिवंगतों के परिवार को चार लाख रुपये की राहत राशि प्रदान करने के निर्देश दिए हैं।

रातभर हुई मूसलाधार बारिश में थाना सिविल लाइन इलाके के चंद्रपुरा गांव में टीन शेड के नीचे सो रहे चार सगे भाई-बहनों की दीवार के नीचे दबने से मौत हो गईं। मरने वाले बच्चों सिंकू (10), अभि (08), सोनू (07) और आरती (05) है। इन बच्चों के माता-पिता की मौत दो वर्ष पहले हो चुकी थी। ये बच्चे अपनी बूढ़ी दादी के साथ रह रहे थे।

दूसरा हादसा थाना इकदिल क्षेत्रांर्गत कृपालपुर गांव की है, जहां दीवार गिरने से मलबे के नीचे दबकर दम्पति की मौत हो गई। इसी तरह थाना चकरनगर क्षेत्र के अंतर्गत अंदाबा गांव में दीवार के नीचे दबकर मजदूर जबर सिंह की दर्दनाक मौत हो गई है। पुलिस ने सभी मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर आगे की कार्रवाई में जुट गई है। हादसें में छह लोग गंभीर रूप से घायल है, जिनका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।

जिलाधिकारी अवनीश कुमार राय ने बताया कि बीती रात हुई मूसलाधार बारिश में अलग-अलग थाना क्षेत्र में हुई घटनाओं में चार सगे भाई बहन समेत सात लोगो की मौत हुई, छह लोग घायल हुए है। शासन के निर्देशानुसार सभी घायलों का बेहतर इलाज जिला अस्पताल में करवाया जा रहा है। बरसात को देखते हुए जनपद के सभी विद्यालयों को तीन दिन तक बंद रखने का आदेश दिया गया है।

उन्होंने बताया कि हादसे में मरने वाले लोगो के परिजनों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा चार-चार लाख रुपये की सहायता राशि देने का आदेश दिया गया है, जिसकी प्रक्रिया पूर्ण करवाई जा रही है।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *