West Bengal News : बंगाल में जगह-जगह पुलिस और आंदोलनकारियों में टकराव, लोकल ट्रेनों पर पथराव

कोलकाता, 26 नवंबर। केंद्रीय श्रम और कृषि कानून की खिलाफत समेत सात सूत्री मांगों को लेकर सेंट्रल ट्रेड यूनियन द्वारा आहूत भारत बंद का बंगाल में व्यापक असर देखने को मिला है। यहां सुबह से ही राजधानी कोलकाता समेत हावड़ा, हुगली, उत्तर और दक्षिण 24 परगना, पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर, पुरुलिया बांकुड़ा, सिलीगुडी सहित अधिकांश क्षेत्रों में माकपा और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने एक साथ रैली निकाली, सड़के जाम की, टायर जलाए और यातायात बाधित कर दिया।

इस दौरान कई स्थानों पर पुलिस और बंद समर्थकों के बीच टकराव की स्थिति बनी। चंदननगर, श्रीरामपुर में भी बंद समर्थकों ने ट्रेन रोकी है। बारासात‌ और कैनिंग में बंद समर्थकों पर पुलिस ने व्यापक लाठी चार्ज किया है। इसमें कई लोगों के घायल होने की सूचना है। हालांकि दोपहर तक कहीं से किसी बड़ी अप्रिय घटना की खबर नहीं है।

सुबह से अधिकतर क्षेत्रों में बाजार और दुकानें बंद हैं। कोलकाता में इक्की दुक्की सरकारी बसें चली जरूर हैं लेकिन यात्री नदारद थे। उत्तर 24 परगना और दक्षिण 24 परगना के कुछ हिस्सों में लोकल ट्रेनों पर पथराव की सूचना है। कई जगहों पर बंद समर्थक रेलवे पटरी पर ही बैठ गए थे जिसकी वजह से रेल सेवा बाधित हुई।

कोलकाता के कॉलेज स्ट्रीट, धर्मतल्ला, सियालदह आदि इलाके में बड़ी संख्या में युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर उतर कर विरोध प्रदर्शन और नारेबाजी की। धर्मतल्ला में टायर जलाकर सड़क अवरुद्ध किया गया है। सुभाष ग्राम, इच्छापुर, बारासात, डायमंड हार्बर और बैरकपुर में रेलवे पटरी पर बैठकर लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया जिसकी वजह से रेल यातायात ठप हो गया ।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *