West Bengal News: बंगाल पुलिस ने जिस सिख सुरक्षाकर्मी की पगड़ी गिराई वह है पूर्व सैनिक, देश भर में फूट रहा गुस्सा

कोलकाता, 10 अक्टूबर । गत गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी के सचिवालय घेराव अभियान के दौरान भाजपा नेता की सुरक्षा में तैनात रहने वाले बलविंदर सिंह नाम के जिस‌ सिख सुरक्षाकर्मी की पगड़ी बंगाल पुलिस के जवानों ने खींची थी और उसके केस को खींचते हुए थाने ले गए थे, वह पूर्व सैनिक हैं।

सुरक्षाकर्मी के साथ बर्बरता का वीडियो सोशल मीडिया पर बड़े पैमाने पर वायरल हुआ है जिसकी वजह से पूरे देश में सिख समुदाय गुस्से में है। यहां तक कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी इसे लेकर नाराजगी जताई है और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से दोषी पुलिसवालों के खिलाफ जल्द कार्रवाई की मांग की है। बता दें कि बलविंदर सिंह के पास से 9-एमएम की एक पिस्टल भी जब्त की गई थी। हिरासत में लिए जाने के बाद उन्होंने पिस्टल का लाइसेंस दिखाया, जो अगले साल जनवरी तक मान्य है।

बलविंदर सिंह भारतीय सेना के एक पूर्व सैनिक हैं, जो कि राष्ट्रीय राइफल्स बटालियन में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। मुख्यमंत्री कैप्टन के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने बताया कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बंगाल पुलिस के उस कृत्य पर दुख जाहिर किया है, जिसमें गिरफ्तारी के दौरान सिख युवक की पगड़ी गिरा दी जाती है। मुख्यमंत्री सिंह ने पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी से सिखों की भावनाओं को आहत करने वाले पुलिस अधिकारी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की है।

सिखों के प्रमुख संगठन शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने भी इस मामले में तीखी आपत्ति जताते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से आरोपित पुलिस वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा है कि सिख सुरक्षाकर्मी बलविंदर सिंह पर बर्बर हमले और उनकी पगड़ी गिराए जाने की घटना बेहद आपत्तिजनक है। इससे दुनियाभर में रहने वाले सिख समुदाय की भावनाएं आहत हुई हैं। ममता बनर्जी से मेरी अपील है कि आरोपित पुलिस वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

(हि. स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *