WhatsApp, Instagram और Facebook दुनियाभर में रहे डाउन, कंपनी ने मांगी माफी- मार्क जकरबर्ग को 52 हजार करोड़ रुपए का नुकसान

नई दिल्ली : दुनिया भर में फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम का सर्वर अचानक डाउन हो गया। रात करीब 9.15 बजे तीनों के सर्वर डाउन हो गए जिससे यूजर्स को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। करीब छह घंटे बाद तक यूजर्स इन तीनों प्लेटफॉर्म्स को इस्तेमाल नहीं कर पाए। हालांकि मंगलवार तड़के साढ़े चार बजे फेसबुक ने ट्वीट करके सेवाएं फिर से बहाल होने की जानकारी दी। इसके साथ ही कंपनी ने यूजर्स को हुई असुविधा के लिए माफी भी मांगी। आउटेज की यह समस्या पैदा होने पर लोग न तो मैसेज भेज पा रहे थे और न ही उन्हें कोई मैसेज मिल रहा था।

सेवा बहाल होने पर व्हाट्सएप ने भी अपने आधिकारिक हैंडल से एक ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। व्हाट्सएप ने अपने ट्वीट में कहा कि धीरे-धीरे सेवा बहाल हो रही है और हम पूरी सतर्कता के साथ इस दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। उन सभी लोगों से माफी मांगते हैं जो कुछ समय के लिए व्हाट्सएप का उपयोग नहीं कर पाए। धैर्य बनाए रखने के लिए आप सभी का धन्यवाद। हमारे पास इस संबंध में और अधिक जानकारी आने पर उसे आपसे साझा करेंगे।

इससे पहले इसे लेकर वॉट्सएप ने कहा कि हमें कुछ लोगों द्वारा इसके काम नहीं करने की शिकायतें मिली हैं। हम इसे सही करने का प्रयास कर रहे हैं और जल्द से जल्द इस संबंध में अपडेट देंगे। वहीं, पैरेंट कंपनी फेसबुक ने भी बयान जारी करते हुए कहा- हमें पता है कि कुछ लोगों को हमारे ऐप और उत्पादों को लेकर समस्या आ रही है। हम जल्द से जल्द इसे ठीक करने की कोशिश कर रहे हैं। असुविधा के लिए हम क्षमा चाहते हैं।

फेसबुक ने खराबी की वजह नहीं बताई। परंतु कर्मचारियों के अनुसार यह डोमेन नेम सिस्टम डीएनएस की समस्या हो सकती है। बंद का असर फेसबुक के शेयर की कीमतों पर भी हुआ। अमेरिकी स्टॉक मार्केट नैस्डेक में फेसबुक का शेयर सात फीसदी तक गिरा, जिससे मार्क जुकरबर्ग की कंपनी फेसबुक का बाजार मूल्य 52 हजार करोड़ रुपए घट गया।

फेसबुक के डाउन होने से इसके को-फाउंडर और CEO मार्क जकरबर्ग को व्यक्तिगत रूप से भी भारी नुकसान हुआ है। उनके नेटवर्थ में कुछ ही घंटों में 7 अरब डॉलर (करीब 52 हजार करोड़ रुपये) की गिरावट आ गई और वह अरबपतियों की लिस्ट में एक पायदान नीचे लुढ़क गए।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *