वेदांता दिल्ली हाफ मैराथन 2022 में दौड़ते दिखेंगे विश्व रिकार्डधारी जैकब किप्लिमो

नई दिल्ली, 15 सितंबर । युगांडा के विश्व हाफ मैराथन रिकॉर्डधारी धावक जैकब किप्लिमो रविवार 16 अक्टूबर को दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित रोड रेस में से एक और वर्ल्ड एथलेटिक्स एलीट लेबल इवेंट में – वेदांता दिल्ली हाफ मैराथन 2022 में दौड़ते हुए दिखेंगे।

21 साल के किप्लिमो ने साल 2020 में आयोजित विश्व एथलेटिक्स हाफ मैराथन चैंपियनशिप का खिताब जीता था। इसी तरह बीते साल किप्लिमो ने लिस्बन में 57.31 मिनट के असाधारण रिकार्ड समय के साथ विश्व हाफ मैराथन चैंपियन का ताज हासिल किया था।

युगांडा के इस युवा स्टार के लिए साल 2022 अब तक शानदार रहा है। फरवरी में रास अल खैमाह (यूएई) में आयोजित आरएके हाफ मैराथन 57:56 मिनट समय में जीतने के बाद किप्लिमो ने पिछले रविवार को ग्रेट नॉर्थ रन हाफ मैराथन भी जीता था। यह इवेंट ‘द बेस्ट हाफ मैराथन इन द वर्ल्ड’ के अनौपचारिक खिताब की दौड़ में वेदांता दिल्ली हाफ मैराथन को चुनौती देता है।

इस साल गर्मियों के दौरान, किप्लिमो ने ट्रैक पर ध्यान केंद्रित किया और पिछले महीने आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में 5000 मीटर और 10,000 मीटर स्पर्धा का स्वर्ण जीतने के अलावा विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 10,000 मीटर का कांस्य पदक अपने नाम किया।

इथियोपिया के एम्डेवर्क वालेलेगन ने 2020 में दिल्ली में 58:53 मिनट समय के साथ दिल्ली में कोर्स रिकॉर्ड को सुधारा था लेकिन किप्लिमो का मानना है कि वह अगले महीने भारत की अपनी पहली यात्रा के दौरान भारतीय धरती पर अब तक की सबसे तेज हाफ मैराथन दौड़ सकते हैं।

किप्लिमो ने कहा, “मुझे बताया गया है कि वेदांता दिल्ली हाफ मैराथन कोर्स काफी तेज है और रिकॉर्ड बताता है कि आप वहां तेजी से दौड़ सकते हैं। आप जो करने जा रहे हैं उसके बारे में भविष्यवाणियां करना हमेशा खतरनाक होता है, लेकिन मैं जो कह सकता हूं दिल्ली जाने से एक महीने पहले तक मैं अच्छी स्थिति में हूं, और मैं विशेष रूप से अगले कुछ सप्ताह तक इस रेस पर ध्यान केंद्रित करूंगा। “

किप्लिगो ने आगे कहा, ” अब तक मेरे पास एक सफल ट्रैक सीजन है। हालांकि मैं विश्व चैंपियनशिप में थोड़ा बेहतर करना चाहता था, लेकिन मैंने इस साल बहुत ज्यादा रेस में हिस्सा नहीं लिया, इसलिए मैं अभी भी फिट और तरोताजा हूं और दिल्ली और भारत के लोगों को दिखाना चाहता हूं कि मैं क्या करने में सक्षम हूं। ”

इस रेस के 17वें संस्करण के लिए एक नया टाइटल स्पांसर आयोजकों को मिला है। रेस प्रमोटर प्रोकैम इंटरनेशनल ने इसके लिए भारत के प्रमुख प्राकृतिक संसाधन समूह- वेदांता लिमिटेड के साथ हाथ मिलाया है।

इस रेस के लिए 268,000 अमेरिकी डॉलर की पुरस्कार राशि रखी गई है, और अंतरराष्ट्रीय इलीट वर्ग में पुरुष और महिला खिताब जीतने वालों को 27,000 अमेरिकी डॉलर का पहला पुरस्कार मिलेगा।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *