Yogi Adityanath : जिन्ना का गुणगान करने वालों को रोकना होगा : योगी

औरैया/इटावा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा मुखिया अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा और कहा कि जिन्ना का गुणगान करने वालों को रोकना होगा। मुख्यमंत्री शनिवार को औरैया और इटावा में एक मेडिकल कॉलेज की नींव रखी, इसी के साथ लगभग साढ़े चार सौ करोड़ रुपये की अन्य परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण भी किया। कहा कि सरदार पटेल ने जहां देश को जोड़ा, वहीं जिन्ना ने धर्म के आधार पर देश कायोगी बंटवारा कर दिया। अखिलेश ने सरदार पटेल की जिन्ना से तुलना कर एकता को खंडित करने वालों को महिमामंडित किया है। इनसे सर्तक रहने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि जब आप पर कोई परेशानी आएगी तो सपा, काग्रेस, बसपा कोई भी नहीं दिखेगा। इनको आप लोगों ने पहले भी अवसर दिया है, लेकिन सब असफल रहे। उन्होंने कहा कि कोरोना के संकट काल में बबुआ घर में दुबके हुए केवल ट्विटर पर ही खेलते रहे। अब समय आ गया है जब आप लोग उन्हें घर में ही दुबके रहने पर मजबूर कर दो।

इस मौके पर उन्होंने कहा, “औरैया में मेडिकल कॉलेज बने, यह यहां के लोगों का सपना था। प्रधानमंत्री के दिशा निर्देश से मेडिकल कालेज की स्थापना की जा रही है। इससे औरैया के साथ आसपास के जनपद के युवा नौजवानों और बालिकाओं के लिए नर्सिग की पढ़ाई आसान हो जाएगी। यह मेडिकल कॉलेज 280 करोड़ की लागत से बनाया जाएगा। इसके साथ ही चिकित्सालय, किसान कल्याण केंद्र, अग्निशमन केंद्र, दो आश्रयस्थल के साथ अन्य कई योजनाओं का भी शिलान्यास किया गया है।”

उन्होंने समाजवादी पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा, “इटावा बगल में ही है, लेकिन विकास केवल वहीं तक ही क्यों सीमित रहा। आप लोगों को उनसे पूछना चाहिए कि आखिर औरैया में विकास क्यों नहीं हुआ। इसके पहले कांग्रेस, बसपा को भी शासन करने का अवसर मिला, लेकिन वर्ष 2015 से पहले यहां समस्याओं के अलावा कुछ नहीं था। हमने हर जनपद को लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस की सुविधा दी है। इससे हार्ट अटैक व अन्य बीमारियों के मरीजों को जल्द ही स्वास्थ्य सुविधा मिल पाएगी।”

उन्होंने कहा, “70 वषों में 12 मेडिकल कॉलेज प्रदेश में बन पाए, लेकिन हमारे पांच वर्षों में 58 मेडिकल कॉलेज दे रहे हैं। 32 पर काम चल रहा है। बाकी 23 मेडिकल कालेज जल्द ही मिल जाएंगे।”

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राजस्थान से बड़ी मात्रा में छोड़े गए पानी का जिक्र करते हुए कहा कि किसानों की फसल डूब गई, घरों में पानी घुस गया और काफी नुकसान हुआ। लेकिन हमने पहल की और राहत देने के लिए हमने और हमारे जनप्रतिनिधियों ने खुद मोर्चा संभाला और राहत देने का काम किया। गरीब, पीड़ित, किसान, युवा और महिला सभी को सरकार की योजनाओं का लाभ मिल सके इसके लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है।

उन्होंने कहा कि पहले अपराधी और माफिया व्यापारी गरीब और बहन-बेटियों का जीना हराम कर देते थे। पहले माफियाओं को अपनी पार्टी में शामिल करने की होड़ लगती थी, लेकिन अब लोगों को डर लग रहा है कि जब माफिया के घरों पर बुलडोजर चल रहा है तो उन पर भी बुलडोजर चल सकता है।

योगी ने कहा कि केंद्र के एक्साइज ड्यूटी में कटौती के फैसले के बाद राज्य ने भी पेट्रोल-डीजल की कीमत में कटौती की घोषणा की है। अब प्रदेश में पेट्रोल और डीजल 12 रुपये सस्ता हो गया है। इससे किसानों को भी बहुत राहत मिलेगी। साथ में ही कर्मचारियों को भी इसका फायदा होगा। पहली बार डीजल पेट्रोल की कीमत में 12 रुपये कमी की गई है, ऐसा पहले कभी नहीं हुआ है।

उन्होंने कहा कि पहले रामभक्तों पर गोलियां चलाई जाती थीं, लेकिन अब अयोध्या में भव्य दीपोत्सव कार्यक्रम के साथ सभी पर्व और त्योहारों को भव्य तरीके से मनाया जा रहा है। 700 मंदिरों के पुनरोद्धार का काम शुरू कर किया गया है। पहले यह पैसा कब्रिस्तान की बाउंड्री बनाने में चला जा रहा था। अब यह विकास कार्य में लगाया जा रहा है।

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा, “कोरोना काल में भी मैं आपके यहां व्यवस्था को मजबूत करने के लिए अपने सभी जनप्रतिनिधियों के साथ उपस्थित रहा।”

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *