Yogi Adityanath : माफिया के आकाओं पर भी चलेगा बुल्डोजर: योगी

  • उप्र के औरैया जिले में राजकीय मेडिकल कॉलेज का किया शिलान्यास
  • जिन्ना का गुणगान करने पर योगी के निशाने पर रहे अखिलेश यादव

लखनऊ, 6 नवंबर । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर हमला बोला है। अखिलेश यादव का नाम लिए बगैर योगी ने कहा कि पिछले दिनों एक नेता ने जिन्ना का गुणगान किया, सरदार पटेल से तुलना की थी। पटेल देश को जोड़ने वाले हैं। जिन्ना देश को तोड़ने वाले हैं। वह भारत की अखंडता को बिखेरने वाले हैं। इसलिए प्रदेश की जनता को उन्हें (अखिलेश) खारिज करना चाहिए। यह बातें आदित्यनाथ ने शनिवार को औरैया जिले में विभिन्न योजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास के मौके पर कही।

मुख्यमंत्री योगी ने औरैया में राजकीय मेडिकल कॉलेज समेत विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि यह मेरे लिए खुशी का क्षण है कि दीपावली, गोवर्धन पूजा, भैया दूज के बाद गोपाष्टमी के साथ छठ पूजा जैसे धार्मिक कार्यक्रमों को सम्पन्न कर रहे हैं। इसके साथ ही विकास की परियोजनाओं को भी आगे बढ़े रहे हैं। औरैया में साढ़े चार सौ करोड़ रुपये से अधिक लागत की परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि कुछ दिनों पहले आया था। राजस्थान से पानी छोड़ा गया था, तब औरैया जिला बाढ़ से प्रभावित हुआ था। लोगों के घरों में पानी घुस गया था। पहले की सरकारों में कोई सुध लेने वाला नहीं था। इस सरकार में विधायक, सांसद, अधिकारी के साथ मैं खुद आप लोगों का हाल जानने आया। राहत कार्य को तेजी से बढ़ाया गया। शासन के स्तर पर लगातार प्रयास किये जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि औरैया जिले का सपना था कि उसका अपना एक मेडिकल कॉलेज हो। प्रधानमंत्री मोदी के प्रयासों से आज यह सपना साकार हो रहा है। इससे यहां के युवाओं को मेडिकल की पढ़ाई करन के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। 109 करोड़ की लागत से 12 अन्य परियोजनाओं का शिलान्यास हुआ है। इसमें चिकित्सालय, अग्निशमन केन्द्र, गोआश्रय स्थल समेत अन्य योजनाएं हैं।

उन्होंने कहा कि आप लोगों को सपा, बसपा और कांग्रेस से सवाल करना चाहिए। सर्वाधिक समय कांग्रस, इसके बाद सपा और फिर बसपा को शासन करने का अवसर मिला। केवल चिकित्सा की बात करें तो जिलों को लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस तक ही नहीं थी। 2017 तक यह सुविधा नहीं आ सकी थी। केवल 12 मेडिकल बन पाए थे। हम केवल पांच वर्षों में ही 58 मेडिकल कॉलेज देने जा रहे हैं। इसमें से 32 मेडिकल कॉलेज बन कर तैयार हैं।

पहले माफियाओं को गले लगाने की होड़ लगी रहती थी। आज उन माफियाओं पर बुलडोजर चल रहा है। सबको समझ आ रहा है कि यदि माफियाओं पर बुल्डोजर चल रहा है तो उनके आकाओं पर भी चलेगा। कोई पर्व त्योहार आता था तो दंगे शुरू हो जाते थे। व्यापारियों को लूट लिया जाता था। आपने साढ़े चार वर्ष के अंदर देखा होगा कि एक भी दंगा नहीं हुआ। अब उन्हें दंगा नहीं करने की नसीहत दी जा रही है। अगर दंगा किया तो सात पीढ़ियां उसकी भरपाई करते-करते गुजर जाएंगी। हम पहले भी कहे थे कि विकास की योजनाओं में कोई भेदभाव नहीं करेंगे। आयुष्मान भारत योजना, पीएम किसान सम्मान निधि, पीएम आवास आवाजना हो या कोई अन्य योजना, सबको बराबर लाभ मिला है।

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा कि पहले भी महंगाई आती थी। महामारी आती थी। पहले की सरकारें इस प्रकार चिंता नहीं करती थीं। नि:शुल्क अनाज दिया जा रहा है। उप्र में मार्च तक मुफ्त में राशन दिया जाएगा। इसके साथ ही मोदी जी ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में भारी कमी की। इसके बाद उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने भी कम किया। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में 12-12 रुपये प्रति लीटर की कमी हुई है।

संसदीय कार्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि प्रदेश की पिछड़े राज्य के रूप में गिनती थी। आज उत्तर प्रदेश तेजी से विकसित बनने की दिशा में बढ़ने वाला राज्य बन गया है। यागी का अपना निजी एजेंडा नहीं है। वह प्रदेश की सेवा करने में लगे हैं। वह केवल प्रदेश की जनता की प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोतरी हो रही है। यह विरोधी भी मानने लगे हैं। 2012 में समाजवादी पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनी। सरकार बनने के बाद उन्होंने नारा दिया कि समाजवाद का नारा है खाली प्लाट हमारा है। वह अब एक बार फिर से सत्ता में आने के लिए ब्याकुल हैं, लेकिन प्रदेश की जनता उन्हें समझ गई है। अब दोबारा उन्हें सत्ता में आने नहीं देगी। कांग्रेस का प्रदेश में कोई जनाधार नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी के मार्गदर्शन में 2022 में एक बार फिर योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री की कुर्सी पर आसीन करना है।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *