आतंकवाद के खिलाफ अमेरिका का बड़ा प्रहार, ड्रोन हमले में मारा गया अलकायदा का चीफ अल-जवाहिरी

वॉशिंगटन। आतंकवाद के खिलाफ अमेरिका ने एक बार फिर से बड़ा प्रहार किया है। अमेरिका ने अफगानिस्तान में आतंकवाद विरोधी अभियान के तहत एक सीक्रेट ऑफरेशन में अल-कायदा चीफ अयमान अल-जवाहिरी को हवाई हमले में रविवार सुबह 6 बजकर 18 मिनट पर मार गिराया। राष्ट्रपति जो बाइडेन ने खुद इसकी पुष्टि की है। अल-जवाहिरी को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में सीआईए की तरफ से किए गए ड्रोन हमले में ढेर किया गया।

एफबीआई ने मोस्ट वांटेड की लिस्ट जारी की है, जिसमें अल-जवाहिरी को मृत घोषित कर दिया गया है। अल-जवाहिरी की मौत की खबर 2 दिन बाद सामने आने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि अलकायदा सरगना ने “अमेरिकी नागरिकों के खिलाफ हत्या और हिंसा का एक रास्ता तराशा था।

उन्होंने कहा, “अब न्याय मिल गया है और यह आतंकवादी नेता नहीं रहा। अधिकारियों ने कहा कि जवाहिरी एक सुरक्षित घर की बालकनी में थे जब ड्रोन ने उस पर दो मिसाइलें दागीं। उन्होंने कहा कि मौके पर परिवार के अन्य सदस्य मौजूद थे, लेकिन उन्हें कोई नुकसान नहीं हुआ और केवल जवाहिरी मारा गया।

2011 में ओसामा बिन लादेन की मौत के बाद जवाहिरी ने अल-कायदा को अपने नियंत्रण में ले लिया था। वह और लादेन संयुक्त राज्य अमेरिका पर 9/11 के हमलों के मास्टरमाइंड थे।जवाहिरी वह अमेरिका के “मोस्ट वांटेड आतंकवादियों” में से एक था।

-Agency

Leave a Reply

Your email address will not be published.