झारखंड विधानसभा मानसून सत्र : राज्य को अकाल क्षेत्र घोषित करने की मांग को लेकर विपक्ष का हंगामा, कार्यवाही स्थगित

रांची, 1 अगस्त । झारखंड विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन सोमवर को सदन की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्षी विधायकों ने हंगामा शुरू कर दिया। भाजपा विधायक वेल में पहुंच कर झारखंड राज्य को अकाल क्षेत्र घोषित करने की मांग को लेकर नारेबाजी और हंगामा करने लगे। विधानसभा अध्यक्ष रबीन्द्र नाथ महतो के बार- बार समझाने के बाद भी विपक्ष अपनी सीट पर नहीं बैठे। रिपोर्टर की मेज को थपथपाकर भाजपा विधायकों ने विरोध प्रदर्शन किया। संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि आज ही दूसरी पाली में सुखाड़ पर चर्चा होगी, इसलिए सदन को बाधित नहीं किया जाए।विधानसभा अध्यक्ष ने भी कहा कि कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में भी यह तय हुआ है कि आज दूसरी पाली में इस विषय पर चर्चा होगी। ऐसे में सदन को बाधित करना उचित नहीं लेकिन विपक्ष का हंगामा नहीं थमने की वजह से सदन की कार्यवाही 12.30 तक स्थगित करनी पड़ी।

भाजपा ने लोकतंत्र का गला घोंटा हैं : प्रदीप यादव

विधायक प्रदीप यादव ने कहा कि भाजपा ने झारखंड की हितकारी सरकार को डिस्टर्ब करने के प्रयास किया है। विधायकों की खरीद फरोख्त कर रही है। यह लोकतंत्र की हत्या है। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के तीन विधायकों डॉ इरफान अंसारी, नमन विक्सल कोंगरी और राजेश कच्छप को पश्चिम बंगाल पुलिस ने गिरफ्तार किया है। विधायकों की गिरफ्तारी के बाद कांग्रेस भाजपा पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगा रही है।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.