सिख विरोधी दंगा : निराला नगर हत्याकांड के पांच और आरोपित गिरफ्तार

कानपुर, 20 जुलाई। सिख विरोधी दंगे के दौरान कानपुर के निराला नगर हत्याकांड मामले में एसआईटी टीम ने बुधवार भोर में छापा मारकर पूर्व पार्षद समेत पांच और आरोपितों को गिरफ्तार किया। हत्याकाण्ड में शामिल रहे 27 लोगों की अब तक गिरफ्तारी हो चुकी है।

पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 1984 में हुई हत्या के बाद, कानपुर शहर में हुए सिख विरोधी दंगे के दौरान निराला नगर हत्याकाण्ड की जांच जारी है। एसआईटी के डीआईजी बालेंदु भूषण ने बुधवार को बताया कि निराला नगर हत्याकाण्ड से जुड़े आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए टीम ने मंगलवार देर रात अभियान चलाया।

अभियान के दौरान निराला नगर में तीन सिखों को जिंदा जलाकर हत्या करने वाले निराला नगर यू ब्लॉक निवासी 61 वर्षीय अनिल कुमार पांडे, थाना अकबरपुर के आशा का पुरवा निवासी 65 वर्षीय राम उर्फ बगड़, निराला नगर निवासी 70 वर्षीय मुस्तकीम, जूही लाल कॉलोनी निवासी 60 वर्षीय इरशाद और पड़ोसी 61 वर्षीय अब्दुल वहीद को आज भोर में गिरफ्तार किया गया। सभी के खिलाफ विधिक कार्रवाई करते हुए डीआईजी एसआईटी ने बताया कि अनिल कुमार पांडे की पत्नी पूर्व में पार्षद रह चुकी है, उसकी राजनीतिक गलियारियों में अच्छी पकड़ है।

झांसी से खाली हाथ वापस लौटी टीम

एसआईटी को दो आरोपितों की लोकेशन झांसी मिली थी। उनकी तलाश में मंगलवार को यहां से विशेष दल झांसी भेजा गया था। सूत्रों की माने, तो झांसी में टीम को कोई सफलता नहीं मिल सकी। टीम के पहुंचने से पूर्व ही आरोपितों ने अपना ठिकाना ही बदल दिया। जिससे टीम को वहां से खाली हाथ वापस लौटना पड़ा।

(हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.